मी टू पर छालीवुड स्टार अखिलेश ने कहा सच्चाई सामने लाना ठीक, पर दुरुपयोग ना हो

मनमोहन पात्रे

बिलासपुर। इन दिनों फिल्म जगत में मी टू अभियान चल रहा है जिसके तहत बहुत से अभिनेत्रियों ने अभिनेताओं पर विभिन्न प्रकार के आरोप लगाएं हैं और साथ ही बताया है कैसे उनका शोषण किया गया है। विषय पर जब हमने छत्तीसगढ़ी फिल्मों के सुपरस्टार अखिलेश पांडे से बातचीत की, तब उन्होंने कहा की जिनके साथ गलत हुआ है। उनके प्रति वह संवेदना रखते हैं परंतु उन्होंने इस बात का भी जिक्र किया।

इस अभियान का बहुत से लोग दुर उपयोग भी कर सकते हैं और नामचीन हस्तियों को निशाना बना सकते हैं।

इसलिए इस अभियान में यथार्थ की चीजों का ध्यान रखना बहुत आवश्यक है उनका कहना है कि हो सकता है कि बहुत से लोगों के साथ कुछ गलत हुआ भी हो परंतु इस अभियान की आड़ में बहुत से ऐसे लोग भी सामने आएंगे।

जोकि अभियान का दुरुपयोग कर सकते हैं इसलिए हम सभी को सोच समझ कर किसी भी व्यक्ति के बारे में राय बनानी चाहिए उन्होंने इस बात से बिल्कुल मना नहीं किया।

मी टू अभियान गलत है और उनका मानना है की अगर किसी के साथ गलत हुआ है तो उन्हें उसी समय विरोध करना चाहिए। अगर उस समय का विरोध नहीं कर पाएऔर आज कर रहे हैं तो उसमें भी कोई बुराई नहीं है। जो भी लोग दूसरों पर आरोप लगा रहे हैं उसकी प्रामाणिकता होनी चाहिए। उनका मानना है किसी भी व्यक्ति को अपना नाम बनाने में पूरी उम्र निकल जाती है।

एक छोटा सा आरोप उस व्यक्ति का करियर समाप्त कर सकता है अखिलेश ने कहा कि हम जिस समाज में रहते हैं।

वह बहुत ही सभ्य संस्कारी संवेदनात्मक और नैतिकता के साथ चलने वाला है इसलिए भारतीय समाज को देखते हुए मी टू अभियान कुछ लोगों के लिए सही हो सकता है।

परंतु बहुत से लोग इसका दुरुपयोग भी कर सकते हैं और बहुत से नामचीन लोगों का करियर भी खराब हो सकता है इसलिए हमें किसी के भी बारे में कोई सोच बनाने से पहले उस बात की प्रमाणिकता को ध्यान में रखना चाहिए।

Back to top button