इंद्रधनुष योजना के तहत सम्मानित हुए भूपदेवपुर थाना प्रभारी चमन लाल सिन्हा

ऋषिकेश मुखर्जी:

रायगढ़: जिला पुलिस के द्वारा जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है कि पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी के हांथो आज पुलिस मुख्यालय रायपुर में छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा संचालित “इंद्रधनुष योजना” के अंतर्गत उत्कृष्ट कार्य करने के लिए रायगढ़ जिले के थाना भूपदेवपुर प्रभारी व निरीक्षक चमन लाल सिन्हा को सम्मानित किया गया। वे इस योजना के अंतर्गत सम्मान पाने वाले जिले के पहले पुलिस अधिकारी है।

गौरतलब हो रायगढ़ जिले के घरघोड़ा विकासखंड के अंतर्गत ग्राम भेंगारी मिडिल स्कूल के 12 शिक्षक/ स्टाफ और 56 स्कूली बच्चे एक बस में सवार होकर पिकनिक मनाने भूपदेवपुर के नजदीक रामझरना प्रसिद्ध पिकनिक स्पॉट पर आए थे। यहां खाना पकाते वक्त चूल्हे से उठे धुएं के कारण मधुमक्खियां भड़क गई और अचानक सभी लोगों पर हमला कर जानलेवा हमला कर दिया। जिसके कारण घटना स्थल मे अफरा-तफरी मच गई.

56 स्कूली बच्चों और शिक्षक स्टाफ के जान की रक्षा के लिए हुए सम्मानित

इधर गश्त में निकले प्रभारी निरीक्षक भूपदेवपुर चमनलाल सिन्हा को घटना की सूचना मिली। भूपदेवपुर थाना प्रभारी चमन लाल सिन्हा ने अपनी सूझबूझ से त्वरित निर्णय लेते हुए फौरन थाना से मच्छरदानी मंगवाया और सभी 56 स्कूली बच्चों और शिक्षक स्टाफ के जान की रक्षा करते हुए उन्हें मधुमक्खियों के हमले से बचाते हुए मच्छरदानी में कवर कर घटना स्थल से सुरक्षित बाहर निकाल लिया। उनके किये गए इस कार्य की सभी ने मुक्त कंठ प्रशंसा की । वही एस पी रायगढ़ राजेश अग्रवाल ने भी उन्हें सम्मानित किया था।

पुलिस महानिदेशक ने इसे उत्कृष्ट कार्य माना और थाना भूपदेवपुर प्रभारी निरीक्षक चमन लाल सिन्हा को प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा, उप पुलिस महानिरीक्षक ओपी पाल,एससी द्विवेदी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे ।वहीं निरीक्षक चमन लाल सिन्हा के सम्मानित होने की सूचना मिलने पर रायगढ़ पुलिस विभाग में हर्ष व्याप्त है।

यहां ध्यान देने योग्य बात यह है कि भुवदेवपुर थाना प्रभारी निरीक्षक चमन लाल सिन्हा को प्राप्त हुआ इंद्रधनुष सम्मान को प्रदेश पुलिस ने राज्य में पुलिस विभाग के कर्मचारियों/अधिकारियों के द्वारा किये गए उत्कृष्ठ कार्यों को प्रोत्साहित और सम्मानित करने के उद्देश्य से ही यह योजना प्रारम्भ की गई है।

Back to top button