चैंपियन लीग: रियल मैड्रिड ने डच क्लब एजेक्स को 2-1 से हराया

रियल की इस जीत में उसके स्टार करीम बेंजेमा और मार्को असेंसियो ने गोल दागे।

यूएफा चैंपियंस लीग के अंतिम-16 में स्पेनिश फुटबॉल क्लब रियल मैड्रिड ने डच क्लब एजेक्स को उसके घरेलू चरण में 2-1 से शिकस्त दी।

रियल की इस जीत में उसके स्टार करीम बेंजेमा और मार्को असेंसियो ने गोल दागे।

एजेक्स की टीम पिछले 24 वर्षों से रियल को नहीं हरा पाई है लेकिन इस मैच में घरेलू टीम ने ज्यादातर समय रियल पर दबाव बनाए रखा।

पहले हाफ में ही एजेक्स ने निकोलस टैगलिएफिको के हेडर के जरिए दागे गए गोल की मदद से बढ़त हासिल कर ली थी लेकिन वार का सहारा लेकर रेफरी ने उस गोल को अयोग्य करार दिया।

इसके बाद दूसरे हाफ में करीम बेंजेमा (60वें मिनट) और असेंसियो (87वें मिनट) ने रियल के लिए गोल दागे।
हकीम जियेच (75वें मिनट) के गोल के जरिए एजेक्स ने मैच में वापसी करने की कोशिश की लेकिन निर्धारित समय से तीन मिनट पहले असेंसियो के गोल ने उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

इस मैच में ज्यादातर समय एजेक्स ने दबदबा बनाए रखा और कई मौकों पर वह गोल करने के मामले में दुर्भाग्यशाली रहा।

उधर गेरेथ बेल को रियल की शुरुआती लाइन-अप में वापसी हुई। रियल और एजेक्स के बीच दूसरे चरण का मैच पांच मार्च को मैड्रिड में खेला जाएगा।

वार की उपयोगिता पर सवाल :

वार का इस्तेमाल चैंपियंस लीग में पहली बार किया जा रहा है। जोहान क्रूफ एरिना में 37वें मिनट में निकोलस ने हेडर के जरिए गोल दागा लेकिन रेफरी दामिर स्कोमिना ने डुसान टैडिक को वार की मदद से ऑफ साइड करार दिया।

रिप्ले में टैडिक को रियल के गोलकीपर थिबॉट कॉर्टोइस को बाधा पहुंचाते देखा गया। बाद में यूएफा ने भी ट्वीट किया कि एजेक्स के गोल को रेफरी द्वारा ऑफ साइड करार दिए जाने का फैसला सही था।

इस मसले पर रीयल के मैनेजर सैंटियागो सोलारी ने कहा कि हम रिप्ले नहीं देख सकते हैं।

हमें रेफरी की बातों पर भरोसा करना पड़ेगा। वहीं एजेक्स के मैनेजर एरिक टेन हैग ने कहा-मेरे नजरिए से वह ऑफ साइड नहीं था और ना ही मैं इसे गोलकीपर के खिलाफ फाउल मानता हूं।

पिछले फीफा विश्व कप के बाद से वार का इस्तेमाल कई लीगों में हो रहा है लेकिन इसकी उपयोगिता और सटीकता पर सवाल खड़े होते रहे हैं।

Back to top button