अंतर्राष्ट्रीय

वैक्सीन का डोज देने के बाद पुतिन की बेटी के शरीर के तापमान में बदलाव

थोड़ी देर में शरीर का तापमान बढ़ा, जो धीरे-धीरे सामान्य हो गया

नई दिल्ली: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने ऐलान किया है कि उनकी बेटी के ऊपर वैक्सीन का पहला डोज टेस्ट किया गया है। इसके साथ ही इस बात को लेकर चर्चा शुरू हो गई है कि पुतिन ने अपनी बेटियों और परिवार को इतना बड़ा राज बनाकर कैसे रखा है।

बता दें कि, पुतिन की दो बेटियां हैं, मारिया और कैटरीना। लेकिन उनकी किस बेटी को वैक्सीन का डोज दिया गया, इसकी जानकारी साझा नहीं की गई है। वैक्सीन का डोज देने के बाद पुतिन की बेटी के शरीर के तापमान में बदलाव रिकॉर्ड किया गया है।

पुतिन के मुताबिक, पहली डोज देने पर उसके शरीर का तापमान 38 डिग्री था। वहीं, जब उसे वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई तो तापमान एक डिग्री गिरकर 37 डिग्री हो गया। हालांकि, थोड़ी देर में शरीर का तापमान बढ़ा, जो धीरे-धीरे सामान्य हो गया।

रूस के राष्ट्रपति ने कहा कि वैक्सीन लगने के बाद उनकी बेटी अच्छा महसूस कर रही है। डॉक्टरों ने कहा है कि उनके शरीर में काफी संख्या में एंटीबॉडीज भी बन रही हैं। उन्होंने कहा कि वैक्सीन कई तरह की जांच से गुजरी है और यह मानव शरीर के लिए सुरक्षित है।

रूस ने इस वैक्सीन का नाम अपने पहले सैटेलाइट ‘स्पुतनिक वी’ के नाम पर रखा है। इस वैक्सीन को देश के रक्षा मंत्रालय के साथ समन्वय में गमलेया शोध संस्थान द्वारा विकसित किया गया है।

31 जुलाई को निर्मित नवीनतम डब्ल्यूएचओ अवलोकन के अनुसार, दुनिया भर में कुल 165 वैक्सीन पर काम चल रहा है। रूसी स्वायत्त निधि के प्रमुख ने कहा, स्पुतनिक वी वैक्सीन की एक अरब डोज के लिए उन्हें 20 से अधिक देशों से निवेदन मिला है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button