छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र 4 से, लेकिन भाजपा का नेताप्रतिपक्ष कौन-संशय बरकरार?

रायपुर:

छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र कल 4 जनवरी से शुरू होने वाला है, लेकिन विपक्ष में बैठी भाजपा अभी तक अपने नेताप्रतिपक्ष का चयन नहीं कर पाई है।भाजपा में नेता प्रतिपक्ष के चयन को लेकर माथापच्ची जारी है।भाजपा के कई दिग्गज नेताप्रतिपक्ष बनने की रेस में आगे हैं। फिलहाल भाजपा का नेताप्रतिपक्ष कौन होगा?इस पर संशय बरकरार है।

इधर भाजपा का नेताप्रतिपक्ष तय नहीं हो पाया है, उधर कांग्रेस भी भाजपा पर चुटकी लेने का कोई मौका नहीं छोड़ रही है।प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि भाजपा अभी तक हार के सदमें से बाहर नहीं निकल पायी है।

नेता प्रतिपक्ष चयन नहीं करने को लेकर भूपेश बघेल ने कहा कि मुख्यमंत्री चुनने में देरी हुई तो पूरी मीडिया ने सवाल पूछना शुरू कर दिया था कि अभी तक नामों का ऐलान नहीं हुआ है।अब तो विधानसभा का सत्र भी शुरू हो गया है, लेकिन लगता है भाजपा हार के सदमे से ही नहीं उबर पा रही है।

1
Back to top button