छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार तो डीजल-पेट्रोल पर दोहरा कर वसूलती है : धनंजय सिंह ठाकुर

पेट्रोल डीजल के बढ़ते दामों को लेकर सरकार पर साधा निशाना

छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार तो डीजल-पेट्रोल पर दोहरा कर वसूलती है : धनंजय सिंह ठाकुर

रायपुर : पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी पर एक बार फिर कांग्रेस ने सरकार को कठघरे में खड़ा किया है. इस मसले पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि आज भी विश्व में कच्चे तेल का दाम 2014 के 105 डालर के मुकाबले कम है।

उन्होंने कहां 74 डालर प्रति बैरल की दर से मिल रहा है। 100 दिन में मंहगाई कम करने का वादा करने वाली एनडीए की सरकार मंहगाई कम होने की संभावनाओं के बाद भी जानबूझकर मंहगाई को कम होने नहीं दे रहा है। पेट्रोलियम पदार्थो की दरो में वृद्धि का असर आमजनजीवन पर पड़ता है।

डीजल के दामों पर वृद्धि होने का सीधा असर गृहणियों के किचन पर पड़ता है। रसोई गैस, दूध, दही, सब्जी, दाल, चांवल की कीमतों में वृद्धि हाने से घर का बजट बिगड़ता है। उन्होंने कहा कि वननेशन वन टैक्स की बात करने वाले मोदी 22 राज्यों में एनडीए की सरकार होने के बाद भी जीएसटी लागू नहीं कर रहे है। इससे मोदी और भाजपा का दोहरा चरित्र उजागर होता है।

छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार तो डीजल-पेट्रोल पर दोहरा कर वसूलती है। राज्य में 25.5 प्रतिशत वेट के अलावा पेट्रोल और डीजल पर 1 और 2 रूपये सरचार्ज भी रमन सरकार वसूलती है। यदि रमन सिंह सरकार पेट्रोलियम पदार्थ पर कमाई का मोह छोड़ दे तो राज्य के निवासियों को 10 से 15 रूपये डीजल और पेट्रोल सस्ता लगेगा।

यहीं नहीं आम आदमी के डीजल पेट्रोल से दुगना कर वसूल करने वाली भाजपा सरकार हवाई जहाज के एवीएशन फ्यूल पर 4.5 प्रतिशत कर वसूलती है।

पूर्व में भी पेट्रोलियम के दामो में बढ़ोत्तरी के पश्चात दाम में कमी के लिये केन्द्र की एनडीए सरकार ने सभी राज्यों को राज्यों में लगने वाले सर्विस टैक्स कम करने का निर्देश दिया था। जिस पर छत्तीसगढ़ सरकार ने अमल नहीं किया था।

Back to top button