छत्तीसगढ़ बजट 2021: शराब पर लिए गए टैक्स की राशि का कोरोना रोकथाम के लिए खर्च नहीं किए जाने का मामला गूंजा

बीजेपी के सदस्य सदन में शोर-शराबा करने लगे और सदन से वॉक आउट किया।

रायपुर। विधानसभा में आज बीजेपी सदस्य अजय चंद्राकर ने शराब पर लिए गए टैक्स की राशि का कोरोना रोकथाम के लिए खर्च नहीं किए जाने का मामला उठाया। अजय चंद्राकर ने आरोप लगाया कि सरकार ने कोरोना की राशि का दुरुपयोग किया है। जनता के पैसों में डाका डाला है। इस पर मंत्री का स्पष्ट जवाब नहीं आने से भाजपा सदस्य नाराज हो गए। बीजेपी के सदस्य सदन में शोर-शराबा करने लगे और सदन से वॉक आउट किया।

देसी और विदेशी शराब में सेस का मामला गूंजा

बीजेपी सदस्य अजय चंद्राकर ने प्रश्नकाल के दौरान देसी और विदेशी शराब में सेस का मामला उठाया। अजय चंद्राकार ने पूछा कि सेस किस लिए लगाए गए हैं? जिस मद के लिए राशि अधिरोपित की गई है उसका दुरुपयोग किया जा रहा है। मंत्री कवासी लखमा ने सदन में जानकारी दी कि कोरोना के दौरान विशेष कोरोना शुल्क अधिरोपित किया गया। अजय चंद्राकार ने कहा कि वे अधिरोपित सेस के उपयोग पर सवाल पूछ रहे हैं। इस पर आसंदी के निर्देश पर मंत्री मोहम्मद अकबर ने जवाब दिया। सेस की राशि का उपयोग उसी मद में किया जा रहा है जिस मद में अधिरोपित की गई है।

कांग्रेस के प्रकाश नायक ने GST की चोरी के प्रकरण पर जांच की कार्रवाई का मामला उठाया। पूछा कि वर्ष 2019 – 20 एवं 2020- 21 में GST चोरी के कितने प्रकरण कब कब प्राप्त हुए?इन प्रकरणों पर क्या क्या कार्रवाई की गई? विभागीय मंत्री टीएस सिंहदेव ने बताया कि जीएसटी चोरी के 102 प्रकरण प्राप्त हुआ। प्राप्त प्रकरणों पर नियमानुसार कार्रवाई करते हुए 249.02 लाख रुपया जमा कराया गया। इस पर विधायक ने पूछा कि केवल 41 प्रकरणों पर ही कार्रवाई हुई है। बचे हुए 61 प्रकरणों की भी कार्य जांच कराएंगे क्या? इस पर मंत्री ने कहा कि अवश्य जांच की जाएगी। विधायक ने GST चोरी के प्रकरणों की जांच में अफरा-तफरी का आरोप लगाया।

विपक्ष ने प्रदेश में रेत माफिया को लेकर लाया स्थगन प्रस्ताव

विधानसभा में कई मुद्दों पर गरमाए माहौल के बीच विपक्ष ने रेत माफिया को लेकर स्थगत प्रस्ताव लेकर आया। वहीं रेत माफिया पर मारपीट और गुंडागर्दी का आरोप लगाया। रेत माफिया मामले में सदन की कार्रवाई रोककर चर्चा की मांग की। जनता कांग्रेस विधायक धर्मजीत सिंह ने स्थगन का समर्थन किया। वहीं विपक्ष ने सत्तापक्ष पर रेत माफिया को संरक्षण का आरोप लगाया।

बीजेपी विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि प्रदेश में रेत का अवैध उत्खनन किया जाएगा। लोगों के पास महंगा रेत खरीदने के सिवाय कोई विकल्प नहीं है। बीजेपी विधायक अजय चंद्राकर ने कहा कि एनजीटी के नियमों का पालन नहीं हो रहा। सरकार रेत माफिया को निर्देशित कर रही है। या रेत माफिया सरकार को निर्देशित कर रहे हैं। सरकारी संरक्षण में रेत का अवैध उत्खनन हो रहा है। अधिकारी झांकने नहीं जाते।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button