एक वर्ष में 10 करोड़ पौधरोपण करेगी छत्तीसगढ़ सरकार

रायपुर: छत्तीसगढ़ सरकार और ईशा फाउंडेशन के मध्य एक एमओयू हुआ। इसके अनुसार फाउंडेशन की ओर से राज्य में नदी जल स्रोत संरक्षण और संवर्धन में सहयोग किया जाएगा। फाउंडेशन के जग्गी वासुदेव आज इसके लिए राजधानी पहुंचे। 

एमओयू के दौरान छत्तीसगढ़ सरकार के कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि, जग्गी वासुदेव छत्तीसगढ़ आए हैं। सरकार के साथ और सिंचाई विभाग के साथ एमओयू हुआ। इससे तकनीकी सुविधा मिलेगी। नदियों को 12 मासी बनाने की योजना बनाई। नदी जीवित रहेगी तो प्रकृति भी जीवित रहेगी। 

जग्गी वासुदेव ने कहा कि, पहली बार छत्तीसगढ़ आकर अच्छा लगा। हमारी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है नदियों को बचाना। इसलिए हमने सरकार के साथ एमओयू किया है। सभी प्रकार की सलाह हमारी संस्था देगी। भारत के प्रगतिशील राज्यों में छत्तीसगढ़ है और इसकी खासियत है यहां बारिश अच्छी होती है। पानी को बचाने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं।

हम आने वाली अवधि में नदियों को पिछले जैसा छोड़ें। 16 करोड़ लोगों ने एक साथ हिस्सा लिया। स्वतंत्रता के बाद का सबसे बड़ा आंदोलन है। पूरे देश ने सरकार ने इस अभियान को स्वीकारा। हमने करोड़ों पेड़ तमिलनाडु में लगाए हैं। नदियों तालाबों के किनारे हजारों पेड़ लगाए हैं। इस अभियान से पानी में 15 से 20 प्रतिशत की वृद्धि होगी। सरकार एक वर्ष में 10 करोड़ वृक्षों का रोपण करेगी।

Back to top button