छत्तीसगढ़ : जानें नई सरकार में पुलिस वालों के लिए क्या होगा नया

सरकार बनते ही पुलिस परिवार को मिलेंगे कई तोहफे

रायपुर: छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनते ही पुलिस परिवार को कई तोहफे मिलने वाले हैं। नये साल में पुलिस परिवारों को राज्य सरकार बड़ा तोहफा देने जा रही है।

डीजीपी डीएम अवस्थी ने सोमवार को पीएचक्यू में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इंजीनियरिंग और मेडिकल में दाखिला पाने पुलिसकर्मियों के होनहार बच्चों का पूरा खर्च अब पुलिस विभाग उठायेगा। यही नहीं पुलिसकर्मियों के प्रतिभाशाली बच्चों की कोचिंग व उनके रहने-ठहरने का इंतजाम भी विभाग की तरफ से किया जायेगा।

डीजीपी डीएम अवस्थी ने कहा कि हर दिन दोपहर में 1 से 3 बजे वो पुलिस मुख्यालय में आमलोगों के लिए उपलब्ध रहेंगे, कोई भी व्यक्ति उनसे आकर मिल सकता है और अपनी परेशानी को रख सकता है।

वहीं पुलिसकर्मी और उनके परिवार शुक्रवार को उनसे मुलाकात कर अपनी समस्या बता सकते है, ये दिन उनके लिए आरक्षित रहेगा।  डीजीपी ने कहा 32 सालों तक जो मैंने काम किया वो मीडिया के कारण आम लोगों तक पहुँचा, मैं आलोचना और तारीफ को एक रूप में ही देखता हूं।

उन्होंने कहा कि “हम मजबूत पुलिस, विश्वसनीय पुलिस के साथ काम करेंगे और अच्छा काम करने वालों को विभाग आउट ऑफ टर्म प्रमोशन भी देगा। जो दागी लोग हैं उन्हें बाहर किया जाएगा. हर महीने पुलिसिंग की समीक्षा की जाएगी”

वार्षिकोत्सव का भी आयोजन

डीजीपी ने कहा कि नेहा चम्पावत डीआईजी की अध्यक्षता में पुलिस कर्मियों की समस्याओं की जानकारी के समिति का गठन किया जायेगा। पुलिसकर्मियों के लिए वार्षिक खेलकूद के साथ हो वार्षिकोत्सव का भी आयोजन किया जाएगा।

पुलिस विभाग की तरफ से बड़े स्तर पर हर साल खेल उत्सव और पृथक से प्रदेश स्तर के वार्षिकोत्सव का भी आयोजन किया जाएगा। जिसमें साल 2019 में उत्कृष्ट कार्य करने वालो प्रोत्साहित करने के लिए यह वार्षिकोत्सव किया जाएगा।

ड्राई कैंटीन की व्यवस्था

पुलिस कर्मी और परिवारों के लिए हर जिले में ड्राई कैंटीन की व्यवस्था की जाएगी। मिलिट्री और आर्मी के तर्ज पर कैंटीन से सस्ते सामनों की उपलब्धता का प्रयास किया जाएगा। 

वहीँ पुलिस हाउसिंग द्वारा पुलिस के लिए निजी आवास दिए जाने की योजना बनाई गई है, जिस योजना का नाम स्नेह छाया रखा गया है। राज्य सरकार ने इस योजना को एप्रूव किया तो जल्द ही इसका लाभ मिल सकेगा।

new jindal advt tree advt
Back to top button