छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ : 31 जनवरी तक चलाया जाएगा मलेरिया मुक्त अभियान

छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी अभियान जिले के पांच विकासखण्डों भानुप्रतापपुर, कांकेर, अंतागढ़, दुर्गूकोंदल एवं कोयलीबेड़ा के 24 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के 101 उप स्वास्थ्य केन्द्रों के 310 ग्रामों में 11 हजार 5507 जनसंख्या को टीम द्वारा चिन्हांकित क्षेत्रों में घर-घर जाकर प्रत्येक व्यक्ति का खून जॉच कर धनात्मक पाये जाने पर तत्काल समूल उपचार किया जायेगा।

उत्तर बस्तर कांकेर 16 दिसम्बर 2020 : छत्तीसगढ़ शासन की महत्वाकांक्षी अभियान जिले के पांच विकासखण्डों भानुप्रतापपुर, कांकेर, अंतागढ़, दुर्गूकोंदल एवं कोयलीबेड़ा के 24 प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के 101 उप स्वास्थ्य केन्द्रों के 310 ग्रामों में 11 हजार 5507 जनसंख्या को टीम द्वारा चिन्हांकित क्षेत्रों में घर-घर जाकर प्रत्येक व्यक्ति का खून जॉच कर धनात्मक पाये जाने पर तत्काल समूल उपचार किया जायेगा।

साथ ही जॉच किये व्यक्ति के बांये पैर के अंगूठे में नेल मार्किंग किया जायेगा, प्रत्येक टीम में ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक महिला, पुरूष एवं संबंधित ग्राम की मितानिन रहेगी। यह अभियान 31 जनवरी 2021 तक चलाया जाएगा। इस अभियान का मुख्य उद्देश्य चिन्हांकित क्षेत्रों में  मलेरिया परजीवी को समूल नष्ट करना हैं।

उक्त अभियान का उप संचालक मलेरिया डॉ. सुभाष मिश्रा संचालनालय स्वास्थ्य सेवायें द्वारा मलेरिया प्रचार वाहन को हरी झण्डी दिखाकर शुभारंभ किया गया, जिसमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जे.एल.उइके, सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक डॉ. आर.सी.ठाकुर, जिला मलेरिया अधिकारी डॉ. डी.के. रामटेके, राज्य सलाहकार सुबोधधर शर्मा, जिला कार्यक्रम प्रबंधक डॉ. निशा मौर्य, जिला मलेरिया सलाहकार मीना शर्मा, एमएलटी भूपेन्द्र राय, कुमारी प्रियंका रवानी एफएलए उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button