छत्तीसगढ़: रात में प्रेमिका से मिलने घर पहुंचे प्रेमी की हत्या, लड़की के परिवार वाले बने हत्यारे….

बलरामपुर. प्रेम-प्रसंग में एक युवक की हत्या कर दी गई। मृतक अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गया था। इसी दौरान लड़की के परिजनों ने उसे देख लिया व बेदम पिटाई कर दी। गंभीर चोट लगने से युवक की मौके पर ही मौत हो गई। मौत के बाद उसकी लाश पड़ोसी के खेत में फेंक दी थी। मामले में पुलिस ने लड़की के पिता, बड़े पिता सहित 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामला बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के शंकरगढ़ थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम अय्यारी का है। लड़की के परिवार वालों की हरकत से दो परिवार बर्बाद हो गये।

एक परिवार ने अपने घर के चिराग को खो दिया तो वही दूसरा परिवार अब सलाखों के पीछे है।

प्रदीप पैकरा घर से खाना खाकर निकला था। सुबह करीब 11:00 बजे सूचना मिला की प्रदीप पैकरा, उम्र 18 वर्ष, मनु कवर के बाड़ी में मुंह के बल गिरा पड़ा है। नजदीक से देखा तो उसकी मृत्यु हो चुकी थी। उक्त घटना की सूचना अपने परिवार वालों व थाना शंकरगढ़ पुलिस को दिया। प्रार्थी की रिपोर्ट पर मर्ग इंटीमेशन चाक कर शव पंचनामा कार्रवाई में लिया जा कर मृतक प्रदीप पैकरा के शव को शंकरगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पीएम कराया गया। जहां पीएम कराने वाले डॉक्टर ने अपने अभिमत में (HOMICIDAL) हत्या करने से लेख करने एवं जांच पर प्रथम दृष्टया धारा 302 भादवि का अपराध घटित होना पाए जाने से अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

घटना की सूचना एसपी बलरामपुर रामकृष्ण साहू एवं एएसपी सुशील कुमार नायक

को दिया गया तथा उनके निर्देशानुसार एसडीओपी कुसमी रितेश चौधरी के द्वारा मानव हत्या संबंधी अपराध होने के कारण संवेदनशीलता के साथ डीपाडीह कला पुलिस सहायता केंद्र प्रभारी अमित गुप्ता को प्रकरण के संबंध में दिशा निर्देश देते हुए प्रकरण में टीम गठित कर त्वरित कार्यवाही करने तथा अपराध में संदेही व्यक्तियों से घटना के संबंध में पूछताछ किया गया पूछताछ में तथ्य सामने आया कि

ग्राम अय्यारी निवासी गिरजा पैकरा की बड़ी लड़की का मृतक से पूर्व से प्रेम संबंध था।

लड़की के घरवाले उक्त प्रेम संबंध में नाराज चल रहे थे। घटना दिनांक को मृतक प्रदीप पैकरा अपने प्रेमिका से मिलने उसके घर गया था। उसी दौरान उसकी प्रेमिका के परिजन उसके पिता गिरजा पैकरा उसके बड़े पिता मुंशी पैकरा प्यारी बाई व कमली भाई घर में आ गए मृतक प्रदीप उक्त व्यक्तियों को देखकर घर से भागने लगा। उक्त चारों व्यक्ति प्रदीप पैकरा को गिरजा पैकरा के बाड़ी में पकड़कर वहीं पर डंडा हुआ हाथ मुक्का से मारपीट करने लगे उक्त मारपीट से प्रदीप पैकरा का मौके पर ही मौत हो गया। जिससे आरोपी गिरजा व मुंशी पैकरा शव को मनु कवर के बाड़ी में ले जाकर फेक दिए। प्रकरण में आरोपी गिरजा पैकरा उसके बड़े पिता मुंशी पैकरा, प्यारी बाई व कमली बाई को दिनांक 22 :11: 2021 के गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button