छत्तीसगढ़राजनीति

धान ख़रीदी पर सरकार का फ़ैसला किसानों के साथ धोखा-BJP

भाजपा युवा नेता विकास ठाकुर ने धान ख़रीदी पर लिए गये सरकार के फ़ैसले को किसानों के साथ धोखा बताया है।

खरोरा निलेश गोयल

खरोरा :- भाजपा युवा नेता विकास ठाकुर ने धान ख़रीदी पर लिए गये सरकार के फ़ैसले को किसानों के साथ धोखा बताया है।

पार्षद विकास ठाकुर ने मुख्यमंत्री भुपेश बघेल से 2500 रूपए मे धान ख़रीदी सहित 2 वर्ष की बोनस देने की माँग करते हुवे कहॉ की छत्तीसगढ की भोलीभाली जनता हाथ मे गंगाजल लेकर झुठे कसम खाने वाले कांग्रेसियों के झाँसे मे आ गयी, जिसका पछतावा अब प्रदेश की जनता को हो रहा है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार अपने वादे के अनुरूप 2500 मे धान और दो वर्षो का बोनस देना तो दुर उल्टा इस सरकार के व्दारा धान ख़रीदी का समय ही घटा दिया गया। जिससे किसानों को धान के रख रखाव और सुखद की मार झेलना पड रहा है। वही सरकार के तुगलकी फ़रमान के चलते छोटे छोटे व्यपारी भी किसानों के चिल्हर धान ख़रीदने से इंकार कर रहे है। जिससे कारण ग़रीब किसान को अपने रोज़मर्रा के चीज़ों के लिए भी पैसे जुटाने मे परेशानी हो रही है।

एक तरफ सरकारी फ़रमान के चलते व्यपारी किसानों को अधार कार्ड ऋण पुस्तिका आदी रखने को बाध्य कर रहे है। तो दुसरी ओर सरकारी अमला किसानों, व्यपारीयो को धान परिवहन करने सहीत गोदामों मे संग्रहण करने पर कार्यवाही कर रहे है। सुबे के मुख्यमंत्री अपने आप को किसानों के हितैषी बता रहे है। पर राज्य के किसान दहशत के शाय मे जीने को मजबुर है पुरे प्रदेश मे दहशत का महौल है जिसका जवाब आने वाले चुनाव मे देखने को मिलेगा।

विकास ठाकुर ने कहा की इस वर्ष सरकार ने राज्य मे गिरदावरी रिपोर्ट तैयार किया है। और जो किसान जितने रकबे मे धान बोया है। उतने का ही पंजीयन पटवारी रिपोर्ट मे किया गया है। वही किसान अब पंजीयन रकबे के अनुसार ही अपने धान को सरकारी मंडी मे तो बाक़ी बचत धान को निजी व्यपारी को बेचने पर मजबुर है। पर एैसी स्थिति मे बचत धान को अवैध बताकर कार्यवाही करना ये गलत है । और समय रहते सरकार को अपने इन फ़ैसलों को वापस लेकर अपने घोषणा अनुसार 2500 रूपऐ मे धान ख़रीदी सहीत 2 वर्षो का बोनस देना चाहिए।

Tags
Back to top button