छत्तीसगढ़: प्रदर्शन कर रहे कोरोना योद्धाओं को पुलिस ने किया गिरफ्तार, बरसाए डंडे

रायपुर. राजधानी में विगत 63 दिनों से अपनी एक सूत्रीय मांग नियमितकरण की मांग को लेकर धरना स्थल बूढ़ा तालाब पर धरना दे रहे हैं। दूसरे करोना काल के समय सरकार द्वारा स्वास्थ्य कर्मियों के तीन माह की संविदा पर अस्थाई भर्ती की गई थी। समय अवधि समाप्त होने के बाद उन्हें हटा दिया गया था। अपनी नियमितीकरण की मांग को लेकर कोरोना योद्धा प्रत्येक दिन अलग-अलग तरीके से विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

कोरोना योध्दा कल स्वास्थ्य संचालक से मिलने गए थे। वहां उन्हें कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला। संचालक ने कह दिया की ” 3 माह की भर्ती कर मैंने और सरकार बहुत बड़ी गलती की. भले ही इधर से उधर कुछ भी होता…..”.

आज कोरोना योध्दा सुबह 5:00 बजे से सड़क सड़क पर शव बन कर प्रदर्शन कर रहे थे। प्रदर्शन कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों का कहना है कि पुलिस ने उस पर लाठीचार्ज किया है। सड़क पर लाश बन कर प्रदर्शन कर रहे स्वास्थ्य कर्मियों को को गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही उन्होंने बताया कि इसमें कुछ बीमार भी हैं , जिनको पुलिस जबरदस्ती गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने लाठी चार्ज किया जिससे कुछ लोगों के शरीर पर चोटें भी आई है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button