छत्तीसगढ़ : राज्य सहकारी बैंक को 27 करोड़ का मुनाफा

लैलूंगा और कुनकुरी में शीघ्र प्रारंभ होंगी नवीन शाखाएं

रायपुर, 01 अक्टूबर 2021 : छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपेक्स बैंक) के अध्यक्ष बैजनाथ चन्द्राकर की अध्यक्षता में अपेक्स बैंक की 22वीं वार्षिक आमसभा का आयोजन नया रायपुर सेक्टर 24 स्थित छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक के प्रधान कार्यालय में हुआ। बैजनाथ चन्द्राकर ने बताया कि वर्ष 2020-21 में बैंक को 27 करोड़ रूपए का मुनाफा हुआ है। उन्होंने यह भी बताया कि छत्तीसगढ़ में अपेक्स बैंक की दो नवीन शाखाएं लैलूंगा और कुनकुरी में शीघ्र ही प्रारंभ होंगी। बैंक शाखा प्रारंभ करने के लिए रिजर्व बैंक से अनुमति प्राप्त हो गई है।

वार्षिक आम सभा में बैजनाथ चन्द्राकर ने बैंक की वित्तीय स्थिति प्रस्तुत करते हुए बताया कि अपेक्स बैंक की अंशपूंजी राशि 159 करोड़ रूपए, रक्षित निधियां 388 करोड़ रूपए, ऋण एवं निधियां 2628 करोड़ रूपए और स्वयं की निधियां 309 करोड़ रूपए है। उन्होंने बताया कि वर्ष 2000 में छत्तीसगढ़ में अपेक्स बैंक की तीन शाखाएं थी, जो अब बढ़कर 12 हो गई है। शीघ्र ही दो शाखाएं लैलूंगा और कुनकुरी में शुरू होगी। बैंक ने ग्राहक सुविधा को ध्यान में रखते हुए ऑनलाइन बैंकिंग सुविधा और ऑनलाइन राशि अंतरण की सुविधा प्रारंभ कर दी है।

छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी आवास संध 

अपेक्स बैंक की वाषिक आमसभा में छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी आवास संध के प्रतिनिधि एवं विधायक रायपुर ग्रामीण सत्यनारायण शर्मा, छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरधा विकास एवं विपणन सहकारी संघ के अध्यक्ष मोतीलाल देवांगन, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक रायपुर के अध्यक्ष पंकज शर्मा, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक दुर्ग के अध्यक्ष जवाहर वर्मा, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक अंबिकापुर के अध्यक्ष रामदेवराम,
उप सचिव सहकारिता विभाग पी.एस. सर्पराज, अपर पंजीयक सहकारी संस्थाएं हितेश दोषी, अपेक्स बैंक प्रबंध संचालक के.एन. कान्डे, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक राजनांदगांव के सीईओ सुनील वर्मा, नागरिक सहकारी बैंक दुर्ग के प्रतिनिधि रूगटा, नागरिक सहकारी बैंक रायपुर के प्रतिनिधि आर.के. ठाकुर, महिला नागरिक सहकारी बैंक महासमुंद के प्रतिनिधि अनिता रावटे एवं अपेक्स बैंक कर्मचारी सहकारी शाख समिति रायपुर के प्रतिनिधि अजय भगत मौजूद रहें..

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button