छत्तीसगढ़ विस चुनाव 2018: दूसरे चरण की 72 सीटों पर मतदान आज

दूसरे चरण के मतदान के लिये पूरी तैयारी

रायपुर :

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के दूसरे और अंतिम चरण में कड़े सुरक्षा प्रबन्धों के बीच आज 72 सीटों पर मतदान होगा. राज्य के मुख्य निर्वाचन कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार इस चरण में जिन 13 जिलो में मतदान होना है, उनमें महासमुन्द,गरियाबन्द,धमतरी,कवर्धा एवं बलरामपुर जिले नक्सल प्रभावित है।

राज्य के 1.54 करोड़ मतदाता भाजपा, कांग्रेस, जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ व बसपा गठबंधन समेत दूसरे दलों के 1079 उम्मीदवारों के कामकाज का फ़ैसला करेंगे. इससे पहले इसी महीने की 12 तारीख़ को विधानसभा की 90 में से माओवाद प्रभावित 18 सीटों पर मतदान हुआ था.

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी सुब्रत साहु के अनुसार, “दूसरे चरण के मतदान के लिये पूरी तैयारी है. ज़िला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और सुरक्षाबलों ने पहले से ही अपनी तैयारी कर ली है और हमें उम्मीद है कि बिना किसी बाधा के शांतिपूर्ण तरीक़े से मंगलवार का मतदान का कार्य संपन्न होगा.”

छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल कसडोल से चुनाव मैदान में हैं तो विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव अंबिकापुर से तीसरी बार चुनाव लड़ रहे हैं.

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी कांग्रेस छोड़ने के बाद पहली बार अपनी नई राजनीतिक पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के टिकट पर जोगीलैंड कहे जाने वाले मरवाही से चुनाव लड़ रहे हैं. उनकी पत्नी रेणु जोगी कोटा से चुनाव मैदान में हैं तो बहू ऋचा जोगी बसपा के टिकट पर अकलतरा से पहली बार चुनाव लड़ रही हैं.

कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष और विधायक भूपेश बघेल अपनी परंपरागत पाटन सीट से चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष धरमलाल कौशिक पिछली बार चुनाव हारने के बाद एक बार फिर बिल्हा से क़िस्मत आज़मा रहे हैं.

राज्य की भाजपा सरकार के बारह में से नौ मंत्री भी चुनाव लड़ रहे हैं. पिछले 28 साल से विधायक और मंत्री रहे बृजमोहन अग्रवाल रायपुर दक्षिण से चुनाव लड़ रहे हैं, वहीं अश्लील सीडी के कारण चर्चा में रहे राजेश मूणत रायपुर पश्चिम से चुनाव मैदान में हैं.

पिछले 15 साल से कई महत्वपूर्ण विभागों की ज़िम्मेदारी संभाल चुके अमर अग्रवाल बिलासपुर से चुनाव लड़ रहे हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री चरणदास महंत को कांग्रेस पार्टी ने सक्ति में अपना उम्मीदवार बनाया है, वहीं कलेक्टर का पद छोड़ कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुये ओपी चौधरी खरसिया से चुनाव लड़ रहे हैं.

1
Back to top button