छत्तीसगढ़

सहकारी बैंक के संचालक मंडल में किसानों को ही होना चाहिए : किसान मजदूर संघ

रायपुर : किसान मजदूर संघ छत्तीसगढ़ छ.ग राज्य सहकारीबैंकों के संचालक मंडल को लेकर निशाना साधा है. संघ का कहना है कि छ.ग. राज्‍य सहकारी बैंक मर्या. रायपुर प्रदेश के किसानों के अंश पुंजी से गठित सहकारी बैंक है। जिसके संचालक मण्‍डल में मूलत: किसानों को ही सदस्‍य एवं अध्‍यक्ष होना चाहिए। संचालक मण्‍डल भंग होने की दशा में प्राधिकृत अधिकारी पंजीयक सहकारी संस्‍थाएं अथवा संचालक मण्‍डल की सदस्‍यता की पात्रता रखने वाला सामान्‍य सदस्‍य ही प्राधिकृत अधिकारी सहकारी सोसायटी अधिनियम 1960 नियम 1962 के नियम 43 (ख) के तहत हो सकता है। लेकिन पंजीयक के द्वारा दिनांक 20.04.2015 को नियम विरूद्ध अशोक बजाज काे प्रभारी अधिकारी नियुक्‍त कर दिया गया। नियुक्ति आदेश को निरस्‍त करने हेतु दिनांक 23.10.2015 को पंजीयक सहकारी संस्‍थाएं को पत्र प्रस्‍तुत किया गया। उनके द्वारा प्राधिकृत अधिकारी के नियुक्ति के अवैधानिक आदेश को निरस्‍त नहीं किया गया। अपितु सचिव सहकारिता विभाग छ.ग. शासन के द्वारा नियम 43 (ख) के उप नियम (2) में दिनांक 22.01.2016 को अधिसूचना जारी कर संशोधित किया गया और अवैधानिक नियुक्ति को वैधानिक किया गया। अधिसूचना जारी होने के पूर्व नियुक्ति आदेश अवैधानिक था। परंतु अधिसूचना के उपरांत वैधानिक आदेश जारी नहीं किया गया। नियमानुसार अधिसूचना को 06 माह के भीतर विधानसभा के पटल में रख कर अनुमोदन नहीं करवाया गया। जिससे संशोधन की अधिसूचना प्रभावहीन हो कर स्‍वयं निरस्‍त हो गया। वर्तमान स्थिति में जिला सहकारी केन्‍द्रीय बैंक मर्या. दुर्ग एवं राजनांदगांव एवं अंबिकापुर से राज्‍य सहकारी बैंक के लिए संचालक निर्वाचित हो चुके है जिन्‍हें नियमत: प्राधिकृत अधिकारी नियुक्‍त किया जा सकता है। जिला सहकारी केन्‍द्रीय बैंक जगदलपुर के संचालक मण्‍डल के द्वारा अशोक बजाज को प्राधिकृत अधिकारी बनाये रखने के लिए राज्‍य सहकारी बैंक के लिए संचालक का निर्वाचन नहीं करवाया जा रहा है। इस बैंक में निर्वाचन होते ही राज्‍य सहकारी बैंक के अध्‍यक्ष/उपाध्‍यक्ष का निर्वाचन किया जा सकता है। अधोहस्‍ताक्षरकर्ता के द्वारा दिनांक 10.10.2017 को मुख्‍य सचिव, सचिव सहकारिता विभाग, पंजीयक सहकारी संस्‍थाएं पत्र प्रस्‍तुत कर अशोक बजाज के अवैध नियुक्ति को निरस्‍त करने का अनुरोध किया गया है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.