छत्तीसगढ़राजनीति

बीते सालों का बोनस किसानों को कब देंगे बताएं मुख्यमंत्री : मोहम्मद अकबर

रायपुर : बीते सालों का बोनस किसानों को नही मिलने से एक बार फिर कांग्रेस ने राज्य सरकार पर हमला बोला है . पूर्व मंत्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि रमन सरकार के संकल्प पत्र 2013 में किसानों को उनके द्वारा विक्रय किए जाने वाले धान पर प्रति क्विंटल 300 रूपये की दर से बोनस दिए जाने का वायदा किया गया था। वर्ष 2014 और 2015 में किसानों से उपार्जित धान पर बोनस की राशि 3660 करोड़ रूपये रमन सरकार को देना है। मुख्यमंत्री अपने पत्र में ख्रीफ-2016 में धान विक्रय करने वाले 13 लाख किसानों को दीपावली के पूर्व लगभग 21 सौ करोड़ रूपये बोनस राशि दिए जाने की जानकारी तो दे रहे हैं, लेकिन वर्ष 2014 और 2015 में धान विक्रय करने वाले किसानों को धान की बोनस राशि कब देंगे, यह नहीं बताया गया है। संकल्प पत्र जारी करते समय इसका जमकर ढिंढोरा पीटने वाले मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह अब फिर झांसा देने की कोशिश कर रहे है। बड़े ही सहजता से रमन सिंह ने पत्र में कहा है कि सरकार द्वारा किसानों को दिए जाने वाले बोनस के संकल्प को पूरा कर लिया गया है।
समर्थन मूल्य का संकल्प पूरा नहीं किया
मोहम्मद अकबर ने रमन सरकार को किसानों की 24 हजार 679 करोड़ रूपये की कर्जदार बताते हुए कहा कि रमन सरकार पर धान के समर्थन मूल्य की अंतर की राशि का 18919 करोड़ रूपये भी बकाया है। रमन सरकार ने 21 सौ रूपये प्रति क्विंटल धान का समर्थन मूल्य देने की बात, घोषणा पत्र में की थी लेकिन वर्ष 2014, 2015 व 2016 में समर्थन मूल्य 21 सौ रूपये नहीं दिया गया। किसान भाईयों-बहनों को लिखे गए मुख्यमंत्री के पत्र में तारीख न होने पर भी पूर्व मंत्री ने जवाब मांगा है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *