छत्तीसगढ़ी सिनेमा के अभिनेता एजाज़ वारसी का निधन, कोरोना से थे पीड़ित

एजाज़ वारसी की कला यात्रा नाटकों से शुरु हुई थी

रायपुर:पिछले कुछ दिनों से कोरोना से पीड़ित छत्तीसगढ़ी सिनेमा के 55 वर्षीय अभिनेता एवं डायरेक्टर एजाज़ वारसी अब हमारे बीच नहीं रहे। एजाज़ वारसी का आज शाम एम्स में निधन हो गया। एजाज़ वारसी की कला यात्रा नाटकों से शुरु हुई थी।

90 के दशक में जब अलबम व वीडियो फ़िल्मों का दौर आया तो वे उसका महत्वपूर्ण हिस्सा हो गए। सन् 2000 में जब बड़े पर्दे पर छत्तीसगढ़ी सिनेमा की एक नई शुरुआत हुई उसका हिस्सा बनते हुए वे कभी चरित्र अभिनेता तो कभी खलनायक की भूमिका में नज़र आने लगे।

लंबे अनुभव से गुजरने के बाद उन्होंने फ़िल्म ‘पहुना’ से डायरेक्टर के रूप में एक नई शुरुआत की। ‘पहुना’ से उनके डायरेक्शन का सिलसिला जो शुरु हुआ तो आखरी तक जारी रहा। उनके व्दारा निर्देशित ‘किरिया’, ‘माटी मोर मितान’, ‘बेर्रा’, ‘त्रिवेणी’ एवं ‘दहाड़’ फ़िल्में प्रदर्शित हो चुकी हैं।

उनके व्दारा निर्देशित हिन्दी-छत्तीसगढ़ी मिश्रित फ़िल्म ‘कहर द हैवक’ विगत 12 फरवरी को रिलीज़ हुई थी। उनके व्दारा निर्देशित अन्य फ़िल्में ‘अंधियार’, ‘गद्दार’, ‘लफंटुश’, ‘कुश्ती एक प्रेम कथा’, ‘इश्क लव अउ मया’ एवं ‘दगा का’ प्रदर्शन होना बाकी है। एजाज़ की पहचान कम बजट एवं कम समय में फ़िल्म तैयार कर देने वाले डायरेक्टर के रूप में रही थी। उनके निधन से छत्तीसगढ़ी सिनेमा जगत में शोक व्याप्त है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button