विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखकर जीएसटी दर में कटौती करती है सरकार: चिदंबरम

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने करीब 100 उत्पादों पर जीएसटी की दर में कमी किए जाने को लेकर सरकार पर कटाक्ष किया और कहा कि बार – बार चुनाव होना लोगों के लिए अच्छा है. चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा कि वर्तमान जीएसटी व्यवस्था में सुधार नहीं हुआ है और सरकार को तत्काल अधिसूचित करना चाहिए कि जीएसटी की तीन दरें होंगी.

अभी भी हैं जीएसटी में कई खामियां

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्ण वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने ट्विटर के जरिए कहा कि अभी भी जीएसटी में कई तरह की खामियां हैं. और लगता नहीं है कि सरकार इन कमियों को समाप्त करने के बारे में सोच भी रही है. उन्होंने कहा कि बैठक में 100 वस्तुओं पर जीएसटी की दरें घटाई गई हैं, क्वाटरली रिटर्न की बात भी मान ली गई है. इस बारे में हमारी ओर से 2017 जुलाई को सुझाव दिए गए थे तब सरकार ने इसे मानने से इनकार कर दिया था.

सेनेट्री पैड से हटाया गया जीएसटी

शनिवार को जीएसटी परिषद की 28 वीं बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले भी लिए गए. बैठक के बाद महाराष्ट्र के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि बैठक में महिलाओं को बहुत बड़ी राहत दी गई है. बैठक में सेनिटरी नैपकिन पर जीएसटी हटाने का निर्णय लिया गया है.

अभी तक इस पर 12 प्रतिशत जीएसटी लगाया जा रहा था. जीएसटी के एक साल पूरे होने के बाद जीएसटी काउंसिल की ये पहली बैठक थी. वित्त मंत्री पीयूष गोयल की अध्यक्षता में दिल्ली के विज्ञान भवन में हुई इस बैठक में फैसला लिया गया कि 5 करोड़ की आय वाले कारोबारियों को तिमाही आधार पर रिटर्न फाइल करने की सुविधा मिलेगी.

Back to top button