आर्थिक सलाहाकार को थी घर जाने की जल्दी, छोड़ा पद

उनका कार्यकाल अक्टूबर में खत्म होने जा रहा है

मोदी सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इसकी जानकारी अरुण जेटली ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पर लिखे एक पोस्ट में दी है।

बता दें कि सुब्रमण्यन अक्टूबर में वापस अमेरीका लौट जाना चाहते हैं यहां उनका पूरा परिवार रहता है। उनका कार्यकाल अक्टूबर में खत्म होने जा रहा है।

मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन ने पारिवारिक बाध्यताओं के चलते अमेरीका लौटने का निर्णय किया है, और उनके पास अरविंद सुब्रमण्यन की बात मान लेने के अलावा कोई विकल्प नहीं रह गया है।

अरविंद सुब्रमण्यन 16 अक्टूबर, 2014 को भारत सरकार के वित्त मंत्रालय के मुख्य आर्थिक सलाकार बनाए गए थे। उनकी यह नियुक्ति तीन साल की थी।

इस नाते उनका कार्यकाल 15 अक्टूबर, 2017 तक का था। लेकिन केंद्र सरकार ने उन्हें एक साल का कार्यकाल विस्तार दे दिया।

यानि उनका 15 अक्टूबर, 2018 तक पद पर रहना पक्का हो गया। वित्त मंत्री को बड़े आर्थिक मामलों पर सलाह देता है और अन्य बातों के अलावा आर्थिक समीक्षा तथा मध्यावधि समीक्षा तैयार करता है।

Posted by Arun Jaitley on Wednesday, June 20, 2018

Back to top button