गुजरात विधानसभा चुनाव:EC ने दिसंबर में मतदान कराने के दिए संकेत

चुनाव आयोग ने मंगलवार को संकेत दिए कि गुजरात में दिसंबर में विधानसभा चुनाव हो सकते हैं क्योंकि वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल जनवरी के तीसरे सप्ताह में पूरा होने वाला है। मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) ए के ज्योति ने कहा कि गुजरात में 50 हजार से अधिक मतदान केन्द्रों पर मतदाता मतदान सत्यापन पर्ची (वीवीपीएटी) प्रणाली का प्रयोग होगा। इस प्रणाली का पहली बार प्रयोग इस साल गोवा चुनावों में किया गया था।

उन्होंने कहा कि सभी 182 सीटों के एक एक बूथ पर मतदान सत्यापन पर्ची की गणना की जाएगी ताकि पर्चियों की संख्या और डाले गए मतों का आपस में मिलान किया जा सके।

पहली बार चुनाव आयोग गुजरात के सभी विधानसभा क्षेत्रों में सर्वमहिला मतदान केन्द्र शुरू करेगा। सीईसी की अध्यक्षता वाली ईसी अधिकारियों की एक टीम चुनाव तैयारियों का आकलन करने के लिए गुजरात के दौरे पर थी।

ज्योति ने चुनाव दिसंबर में होने की मीडिया में आई खबरों और कुछ नेताओं के दावे से जुड़े सवाल पर कहा, ‘चुनाव दिसंबर में होंगे क्योंकि वर्तमान गुजरात विधानसभा का कार्यकाल अगले वर्ष जनवरी के तीसरे सप्ताह में खत्म हो रहा है।’ उन्होंने इस बारे में कुछ कहने से मना किया कि चुनाव एक चरण में होगा या एक से अधिक में। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग गुजरात दौरे के दौरान एकत्रित इनपुट पर विचार करेगा। इस टीम में चुनाव आयुक्त ओ पी रावत और सुनील अरोड़ा सहित 12 अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे। उन्होंने आज संपन्न दोदिवसीय दौरे पर सरकारी तथा पुलिस अधिकारियों से बात की और राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से मुलाकात की।

Back to top button