मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने किया पुरकेला पंचायत के सचिव को निलंबित

रोशन सोनी

अम्बिकापुर।

जिला पंचायत सरगुजा की मुख्य कार्यपालन अधिकारी नम्रता गांधी ने बताया है कि ग्राम पंचायत पुरकेला के ग्रामवासियों द्वारा 14 दिसम्बर 2018 को समक्ष में उपस्थित होकर शिकायत किया गया कि ग्राम पंचायत पुरकेला के सचिव बोध साय पैकरा 27 नवम्बर 2018 से अपने कार्य से अनुपस्थित है,जिसके फलस्वरूप संबंधित पंचायत सचिव को 14 दिसम्बर 2018 के द्वारा कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया गया।

कारण बताओ सूचना पत्र के पालन में बोध साय पैकरा के द्वारा प्रस्तुत उत्तर का परीक्षण किया गया। पैकरा के द्वारा प्रस्तुत उत्तर समाधान कारक नहीं होने के कारण कार्यालयीन आदेश 10 जनवरी 2019 के द्वारा 23 नवम्बर 2018 से 20 दिसम्बर 2018 तक कुल 28 दिन का कार्य नहीं तो वेतन नहीं के आधार पर अवैतनिक अवकाश स्वीकृत करते हुये इन्हें आगामी आदेश पर्यन्त जिला पंचायत कार्यालय सरगुजा में कार्य करने हेतु आदेशित किया गया।

इस आदेश की तामीली जनपद पंचायत कार्यालय लुण्ड्रा द्वारा 15 जनवरी 2019 को किये जाने के पश्चात् पैकरा इस कार्यालय में उपस्थित नहीं हुए और न ही अपने अनुपस्थिति के संबंध में इस कार्यालय को कोई सूचना प्रेषित किये। इस प्रकार पैकरा दिये गये निर्देश का पालन न करते हुये गंभीर कदाचार किये हैं।

पैकरा का यह कृत्य छत्तीसगढ़ पंचायत सेवा आचरण नियम के सर्वथा विपरित होने के फलस्वरूप दण्डनीय है।
अतएव बोध साय पैकरा द्वारा किये गये कदाचार के फलस्वरूप उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय जिला पंचायत कार्यालय सरगुजा में नियत किया गया है। निलंबन अवधि में पैकरा को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।

1
Back to top button