मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर राफेल डील का पहला शिकार : जितेंद्र अवहद

नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के नेता ने दिया विवादित बयान

नई दिल्ली: लंबे समय तक पैन्क्रिएटिक कैंसर से जूझ रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार को उनके पणजी स्थित निवास पर निधन होने के बाद पहली बार नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी के नेता जितेंद्र अवहद ने उनके निधन को लेकर एक विवादित बयान दिया है।

अवहद ने कहा है कि पर्रिकर राफेल डील के पहले शिकार हैं। अवहद ने कहा कि वह राफेल डील से दुखी थे। इससे पहले भी कई विपक्षी पार्टियों ने राफेल डील को लेकर पर्रिकर पर निशाना साधा था। जितेंद्र अवहद ने कहा, मनोहर पर्रिकर काफी पढ़े-लिखे व्यक्ति थे।

मुझे लगता है कि राफेल सौदे के बाद उन्हें ठीक नहीं लगा, इसलिए उन्होंने वापस गोवा जाने का फैसला किया। वह दुखी थे। मुझे यह नहीं कहना चाहिए क्योंकि वह आज यहां हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन मुझे लगता है कि वह राफेल डील का पहला शिकार हैं।

इससे पहले भी राफेल सौदे को लेकर विपक्षी पार्टी पर्रिकर को निशाना बनाती रही हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गोवा के सीएम पर निशाना साधते हुए कहा था कि पर्रिकर के पास राफेल डील का रहस्य है और वह इसी राज के बल पर मोदी को काबू में रखते हैं। इससे पहले भी कांग्रेस ने राफेल डील विवाद में एक आडियो टेप पर बीजेपी को घेरा था।

Back to top button