मुख्यमंत्री ने विभिन्न विकास कार्यों के लिए 97 लाख रूपए तत्काल मंजूर करने की घोषणा की

मुख्यमंत्री ने हॉकी के उभरते नन्हें सितारों को दी हॉकी स्टिक की सौगात

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह प्रदेश व्यापी लोक सुराज अभियान के तहत आज नक्सल हिंसा पीड़ित आदिवासी बहुल बस्तर जिले के ग्राम सिंघनपुर (विकासखंड-तोकापाल) के समाधान शिविर में हेलीकाप्टर से अचानक पहुंच गए। ग्रामीणों ने उनका जोरदार स्वागत किया। डॉ. रमन सिंह को शिविर में यह जानकर बहुत खुशी हुई कि सिंघनपुर के स्कूली बच्चे पढ़ाई के साथ-साथ हॉकी खेलने में भी काफी दिलचस्पी लेते हैं। लोगों ने मुख्यमंत्री को बताया कि यह छोटा सा गांव बस्तर अंचल में हॉकी की नर्सरी के रूप में भी अपनी पहचान बना रहा है। कुछ समय पहले इस गांव के तीन बच्चे राष्ट्रीय हॉकी प्रतियोगिता में अपनी खेल प्रतिभा का शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं। डॉ. सिंह ने हॉकी के इन उभरते नन्हें सितारों को मंच पर बुलाकर उन्हें हॉकी स्टिक प्रदान करते हुए उनका उत्साह बढ़ाया और शुभकामनाएं दी। डॉ. सिंह ने उनके साथ तस्वीर भी खिंचवायी।

डॉ. सिंह ने स्थानीय युवाओं और बच्चों के आग्रह पर सिंघनपुर में मिनी स्टेडियम निर्माण के लिए 30 लाख रूपए मंजूर कर दिए। इसे मिलाकर उन्होंने ग्र्राम सिंघनपुर, तोतर, छापर, भानपुरी और करेली में विभिन्न विकास कार्यों के लिए 97 लाख रूपए तत्काल मंजूर करने की घोषणा की। उन्होंने इनमें से इनमें सिंघनपुर ग्राम पंचायत के चांदीमेटा गांव में पेयजल के लिए सोलर पम्प और पाइप लाइन के लिए छह लाख रूपए, ग्राम पंचायत सिंघनपुर के ही सड़क पारा में पेयजल सुविधा की दृष्टि से एक सोलर पम्प स्थापना के लिए पांच लाख रूपए, ग्राम तोतर में भी तीन नग सोलर पेयजल पम्प के लिए 15 लाख रूपए की मंजूरी तुरंत प्रदान कर दी।

डॉ. सिंह ने ग्राम कोटली में भी सोलर पम्प स्थापना के लिए पांच लाख रूपए, सिंघनपुर में बाजार शेड के लिए 25 लाख रूपए और सामुदायिक भवन निर्माण के लिए छह लाख रूपए भी तत्काल मंजूर करने का ऐलान किया। उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा – लोक सुराज अभियान में सरकार एक समयबद्ध तरीके से जनता की समस्याओं का समाधान कर रही है। इस अभियान में छोटी-बड़ी लगभग हर समस्या का समाधान किया जा रहा है। डॉ. सिंह ने कहा – सिंघनपुर क्लस्टर के गांवों के 109 लोगों के नाम किन्ही कारणों से राशन कार्डाें में नहीं जुड़ पाए थे, लेकिन समाधान शिविर में आज उनकी समस्या का निराकरण हुआ और सभी 109 लोगों के नाम राशन कार्ड में जुड़ गए। उन्हें अगले माह अप्रैल से राशन भी मिलने लगेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री उज्ज्वल योजना के तहत अब समस्त आदिवासी परिवारों और तेन्दूपता संग्राहक परिवारों को भी निःशुल्क रसोई गैस कनेक्शन दिया जाएगा।

डॉ. रमन सिंह समाधान शिविर में विद्युत वितरण कंपनी के क्षेत्रीय अधिकारी को मंच पर बुलाया और उनसे प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत चल रहे कनेक्शन देने के कार्याें की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंघनपुर क्लस्टर के सभी गांवों में 30 अप्रैल 2018 तक और सम्पूर्ण तोकापाल विकासखंड में जून 2018 तक प्रत्येक घर और मजरे -टोले में बिजली पहुंच जाएगी। मुख्यमंत्री ने समाधान शिविर में ग्रामीणों से स्वास्थ्य विभाग की स्थानीय मितानिन राजकुमारी सेठिया के कार्याें की तारीफ सुनकर खुशी प्रकट की और सेठिया को मंच पर बुलाकर प्रशंसा करते हुए उन्हें बधाई दी। सेठिया वर्ष 2003 से वहां मितानिन के रूप में काम कर रही है। ग्रामीणों ने मुख्यमंत्री को बताया कि मितानिन सेठिया गांव वालों को सामान्य बीमारियों में तत्काल प्राथमिक उपचार देकर उनकी मदद करती हैं। मुख्यमंत्री के साथ सिंघनपुर के समाधान शिविर में क्षेत्रीय विधायक दीपक बैज, छत्तीसगढ़ राज्य सहकारी बैंक (अपैक्स बैंक) के अध्यक्ष अशोक बजाज, प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव अजय सिंह और मुख्यमंत्री के सचिव सुबोध कुमार सिंह भी मौजूद थे।

advt
Back to top button