छत्तीसगढ़

स्टेट एवं म्युनिसिपल स्कूल मैदान में दशहरा उत्सव में शामिल हुए मुख्यमंत्री 

राजनांदगांव : मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने असत्य पर सत्य की विजय के पावन पर्व दशहरे पर संकल्प से सिद्धि तक का प्रण दोहराया। उन्होंने कहा कि भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संकल्प से सिद्धि तक का आह्वान किया है। दशहरे की इस शुभ घड़ी में हम यह संकल्प लेते हैं कि प्रदेश को 2022 तक विकास की नई ऊंचाइयों में पहुंचायेंगे। दशहरे के अवसर पर आपके बीच होना आपके दर्शन करना हमेशा मुझे सुकून देता है। भगवान राम की आराधना कर  सदियों से चल रही इस परंपरा के निर्वाह का हिस्सा बनना हमेशा मुझमें गहरी अनुभूति भरता है। राजनांदगांव में दशहरा पर्व का इतना व्यवस्थित आयोजन और इतना सुखद माहौल मुझे हमेशा सुख प्रदान करता है। राजधानी में डब्ल्यू.आर.एस. कॉलोनी में होने वाले दशहरा पर्व के आयोजन के पश्चात मैं यहां पहुंचा हूं्, यह मेरा सौभाग्य है यह संदेश दशहरा पर्व के अवसर पर स्टेट एवं म्यूनिसिपल स्कूल मैदान में आयोजित कार्यक्रमों में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राजनांदगांव की जनता को दिया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रदेश की जनता को कहा कि हर बार दशहरा पर्व हममे प्रदेश के लिए सर्वोत्तम कार्य करने का संकल्प भरता है और हम नई ऊर्जा से इस कार्य के लिए आगे बढ़ते हैं। आप लोगों की दशहरा मैदान में भारी संख्या में उपस्थिति यह बताती है कि हम अपनी परंपरा को लेकर कितने सजग है। मेरा दृढ़ विश्वास है कि यह आयोजन और भव्य रूप लेगा। हर बार यहां जब आता हूं तो मन में राज्य के लिए बेहतर कार्य करने का संकल्प सुदृढ़ होता है। दशहरा अच्छाई पर बुराई की जीत की प्रतीक है। इसके पश्चात भगवान राम अयोध्या पहुंचते हैं और तब दीपावली मनाई जाती है। हिन्दू संस्कृति के यह दो त्यौहार हमे मर्यादा पुरूषोत्तम भगवान राम के जीवन वृतांत के बारे में बताते हैं जो कठिन परिस्थितियों में भी अपने संकल्प के साथ लोक कल्याण के पथ पर आगे बढ़ते रहे।

इस अवसर पर सांसद अभिषेक सिंह ने कहा कि म्यूनिसिपल स्कूल एवं स्टेट स्कूल में आयोजन समितियों द्वारा इस सुन्दर उत्सव को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत की है। आयोजन इतना भव्य रूप ले सका है। इसके पीछे आयोजन समिति का उत्साह और आम जनता का प्रोत्साहन है जो इतनी बड़ी संख्या में इस पावन उत्सव को देखने आई है। मैं कामना करता हूं कि इस शुभ अवसर पर राजनांदगांव एवं पूरे प्रदेश के नागरिक समृद्धि के नये सोपान छुयें। अनेकता में एकता की हमारी देश की विरासत और समृद्ध हो। मुख्यमंत्री तथा सांसद ने इस अवसर पर म्यूनिसिपल स्कूल प्रांगण में पाश्र्व गायक दर्शन रावल की संगीत मयी प्रस्तुति भी सुनी।
इस अवसर पर दशहरा उत्सव समिति के अध्यक्ष विजय पांडे एवं छत्तीसगढ़ जनमहोत्सव समिति के अध्यक्ष सौरभ कोठारी ने भी संबोधित किया। इस दौरान भव्य एवं आकर्षक जमीनी एवं आसमानी आतिशबाजी भी की गई। इस अवसर पर बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के  उपाध्यक्ष खूबचंद पारख, महापौर मधुसूदन यादव, राज्य समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष श्रीमती शोभा सोनी, अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष रामजी भारती, राज्य भंडार गृह निगम के अध्यक्ष नीलू शर्मा, राज्य उर्दू अकादमी के अध्यक्ष अकरम कुरैशी, नागरिक आपूर्ति विकास निगम के पूर्व अध्यक्ष लीलाराम भोजवानी, पाठ्य पुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष अशोक शर्मा, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष सचिन बघेल, राजगामी संपदा न्यास के अध्यक्ष रमेश पटेल, राज्य अंत्यावसायी निगम के अध्यक्ष पवन मेश्राम, नगर निगम के सभापति शिव वर्मा, पूर्व सांसद प्रदीप गांधी, राजगामी संपदा न्यास के पूर्व अध्यक्ष संतोष अग्रवाल, पूर्व महापौर नरेश डाकलिया, अशोक चौधरी, जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष भरत वर्मा, कोमल सिंह राजपूत, राजेन्द्र गोलछा, आलोक स्त्रोती, भावेश बैद्य तथा आयोजन समिति के पदाधिकारियों सहित बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित थे। साथ ही जिला प्रशासन के कलेक्टर भीम सिंह, पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल एवं अन्य अधिकारीगण भी कार्यक्रम में उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply