छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री भूपेष बघेल गौठान निरीक्षण को लेकर पहुँचे ग्राम महौरा,स्व सहायता समूह की महिलाओं के कार्यो की करी तारीफ

राज्य के मुख्यमंत्री भूपेष बघेल दो दिवसीय प्रवास को लेकर जिला कोरबा आगमन हुआ है।प्रोटोकॉल के तहत श्री बघेल हेलीकॉप्टर द्वारा आदर्श गौठान निरीक्षण को लेकर ग्राम महौरा पहुँचे जहाँ मुख्यमंत्री  बघेल का भव्य स्वागत किया गया।

अरविन्द

कटघोरा : राज्य के मुख्यमंत्री भूपेष बघेल दो दिवसीय प्रवास को लेकर जिला कोरबा आगमन हुआ है।प्रोटोकॉल के तहत श्री बघेल हेलीकॉप्टर द्वारा आदर्श गौठान निरीक्षण को लेकर ग्राम महौरा पहुँचे जहाँ मुख्यमंत्री  बघेल का भव्य स्वागत किया गया।कार्यक्रम की शुरुआत माँ सरस्वती की पूजा अर्चना से हुई।

मुख्यमंत्री भूपेष बघेल गौठान निरीक्षण को लेकर पहुँचे ग्राम महौरा,स्व सहायता समूह की महिलाओं के कार्यो की करी तारीफ

कार्यक्रम की अगुवाई में विस् अध्यक्ष महोदय चरणदास महंत,राजस्व मंत्री महोदय जयसिंह अग्रवाल,सांसद ज्योत्सना महंत जी,पाली तानाखार विधायक महोदय मोहितराम केरकेट्टा जी सहित जिला दण्डाधिकारी किरण कौशल सहित बड़ी संख्या में प्रसासनिक अमला मौजूद रहा।कार्यक्रम में बघेल स्व सहायता समूह की महिलाओं से रूबरू हुए और महिलाओं के कार्यो की सराहना की।

CM भूपेश बघेल ने

दोपहर अपने निर्धारित समय से विलंब उड़नखटोले से महोरा पंहुचे CM भूपेश बघेल ने आदर्श गौठान का निरीक्षण किया, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल गौठान में ग्रामीणों से रूबरू हुए और महिला समूह द्वारा किये गए कार्यों का अवलोकन किया। उन्होंने स्थानीय पशुपालकों से विक्रय किये गये गोबर की मात्रा एवं कितनी राशि बैंक खाते में आई, इसकी जानकारी ली। ग्राम के कृषक एवं पशुपालक ने मुख्यमंत्री को बताया कि अब तक लगभग 4 माह में गोबर बिक्री 5 हज़ार रुपये महीना कमा लेते है जिसका भुगतान समय पर बैंक खाते में प्राप्त हो गया है।

गोबर विक्रय से प्राप्त हुई राशि से उन्होंने गेहूँ बीज तथा खाद की खरीदी की है, वर्मी कम्पोस्ट के संबंध में चर्चा करते हुए उन्होंने उपस्थित लोगों को बताया कि गौठान में निर्मित वर्मी कम्पोस्ट का जैविक कृषि हेतु अधिक से अधिक उपयोग में लाना है तथा शेष खाद बच जाने पर सहकारिता के गोदाम में जमा करने और उसकी राशि का भुगतान संबंधित समूहों को करने का निर्देश कलेक्टर को दिए। गोदाम में जमा किये हुए जैविक खाद को वापस किसानों को विक्रय किया जावेगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया कि वर्मी कम्पोस्ट की न्यूनतम विक्रय दर 8 रूपये से बढ़ाकर 10 रूपये प्रति किलोग्राम तय की गई है।

महिला स्वसहायता समूहों द्वारा

महोरा आदर्श गौठान में विभिन्न महिला स्वसहायता समूहों द्वारा स्टाल लगाकर उनके द्वारा निर्मित सामाग्री को रखा था CM भूपेश बघेल ने उनका अवलोकन किया तथा सभी स्टॉल में जाकर महिला समूहों से मुलाकात की. महिला समूहों द्वारा गोबर से बने दिए, गमले व गोबर से बने सुगंधित गुलाल को देख CM बघेल ने प्रशंसा की और कहा छत्तीसगढ़ राज्य में गोबर से बनने वाले उपयोगी सामानों को दूसरे राज्यों के लिए एक उदहारण है.

छ्त्तीसगढ़ पूरे भारत में एक राज्य है कि जहां सरकार गोबर खरीद कर इसका लाभ सीधे किसानों तक पहुचाने की योजना सरकार द्वारा बनाई गई है.मुख्यमंत्री ने कहा कि गोठान कोई नया प्रयोग नहीं है। यह हमारे छत्तीसगढ़ की प्राचीन परंपरा का एक अभिन्न अंग रही है, जिसे हमने व्यवस्थित स्वरूप प्रदान करने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि गोठान में गायों के नस्ल सुधार के साथ किसानों की आय बढ़ेगी। मुख्यमंत्री ने इस दौरान स्व सहायता समूह की महिलाओं से चर्चा कर गो मूत्र, गोबर, नीम आदि से निर्मित कीटनाशक और जैविक खाद की जानकारी ली।

मुख्यमंत्री बघेल ने गौठान का निरीक्षण किया

मुख्यमंत्री बघेल ने गौठान का निरीक्षण किया।जिसमे महिलाओं के कार्य देख बघेल ने इनका हौसलाअफजाई किया।सरकार की बिहान योजना ने ग्रामीण महिलाओं को रोजगार प्रदान किया है।महिलाएं समिति बनाकर सरकार की योजनाओं का भरपूर लाभ ले रही है और रोजगार पाकर जीविकोपार्जन का रास्ता भी आसानी से तय कर रहे हैं।गौठान निर्माण से गाँव मे महिला समितियों को रोजगार मिल रहा है और महिलाएं आत्मनिर्भर हो रही हैं।सरकार की यह योजना ग्रामीण महिलाओं के लिए किसी वरदान से कम नही है।महिलाएं भी रोजगार पाकर हर्षित नजर आ रही हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button