अस्पताल पहुंचकर घायल जवानों से मिले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

हॉस्पिटल प्रबंधन को बेहतर इलाज के निर्देश

रायपुर: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायपुर स्थित रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल, श्री बालाजी हॉस्पिटल, श्री नारायणा हॉस्पिटल तथा एन.एच. एमएमआई नारायणा हॉस्पिटल में इलाजरत सुरक्षा बलों के जवानों से मुलाकात कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली।

मुख्यमंत्री ने उक्त चारों हॉस्पिटलों में भर्ती जवानों से चर्चा की और हॉस्पिटल प्रबंधन को बेहतर इलाज के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल रायपुर वापस लौटते ही एयरपोर्ट में राज्य के वरिष्ठ प्रशासनिक एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर घटना के बारे में जानकारी ली और अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए।

इस दौरान राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल, बस्तर के सांसद श्री दीपक बैज, संसदीय सचिव श्री विकास उपाध्याय, मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, पुलिस महानिदेशक श्री डी.एम. अवस्थी, विशेष पुलिस महानिदेशक (नक्सल ऑपरेशन) श्री अशोक जुनेजा सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल इसके बाद सीधे रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल पहुंचे। उन्होंने वहां इलाज के लिए भर्ती घायल जवानों के स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में चिकित्सकों से पूछताछ की और घायल जवानों से मुलाकात कर उनका हाल जाना।

मुख्यमंत्री एमएमआई, बालाजी और नारायणा हॉस्पिटल भी गए और घायल जवानों से मुलाकात की। वहां जवानों के इलाज के बारे में हॉस्पिटल प्रबंधन एवं चिकित्सकों से चर्चा की। यहां यह उल्लेखनीय है कि रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल में 9, श्री नारायणा हॉस्पिटल में 2, बालाजी एवं एमएमआई हॉस्पिटल में एक-एक जवान का इलाज चल रहा है।

गौरतलब है कि 3 मार्च को सुकमा-बीजापुर सीमा पर सर्चिंग के लिए निकले सुरक्षा बलों के जवानों पर नक्सलियों ने घात लगाकर हमला कर दिया था। सुरक्षा बल के जवानों और नक्सलियों के बीच लगभग 4 घंटे तक चली लड़ाई में बड़ी संख्या में नक्सली मारे गए और घायल भी हुए।

नक्सलियों का बहादुरी के साथ मुकाबला करते हुए सुरक्षा बल के 22 जवान शहीद हो गए और इस घटना में 31 जवान घायल हुए हैं। घायल जवानों में से 13 जवानों का इलाज रायपुर के उक्त तीनों हॉस्पिटल में जारी है। सामान्य रूप से घायल हुए सुरक्षा बल के 18 जवानों का इलाज बीजापुर में किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने इस घटना में शहीद हुए सुरक्षा बल के जवानों को नमन करते हुए कहा कि सुरक्षा बल के जवानों ने बड़े हौसले के साथ नक्सलियों की मांद में घुसकर बहादुरी से लड़ाई लड़ी है। सुरक्षा बल के जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा।

नक्सली अपने अस्तित्व की अंतिम लड़ाई लड़ रहे हैं। हमारे सुरक्षा बल के जवानों का हौसला बुलंद है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि नक्सलियों के खिलाफ सुरक्षा बलों का ऑपरेशन जारी रहेगा। मुख्यमंत्री ने इस घटना में घायल जवानों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button