बास्केटबॉल और फुटबॉल में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आजमाया हाथ

पूरे एशिया में है भिलाई की पहचान -भूपेश बघेल

रायपुर: राजेश पटेल स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स के लोकार्पण के अवसर पर आए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने स्वयं बास्केटबॉल एवं फुटबॉल में हाथ आजमाए। इस मौके पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भिलाई की पहचान पूरे एशिया में है। इसकी पहचान पढ़ाई को लेकर भी है और खेलों को लेकर भी है।

खेलों को बढ़ावा देने हमने खेल प्राधिकरण का गठन

खेलों को बढ़ावा देने हमने खेल प्राधिकरण का गठन किया है। हमारे खिलाड़ियों में प्रतिभा बहुत है लेकिन प्रशिक्षण के अभाव में यह प्रतिभा उभर नहीं पाती थी। अब प्राधिकरण के माध्यम से खिलाड़ियों को बेहतर प्रशिक्षण और डाइट मिल सकेगा।

इसमें सीएसआर का सहयोग भी होगा। स्वर्गीय राजेश पटेल की स्मृति में बना यह स्टेडियम खिलाडियों के लिए काफी उपयोगी होगा। इस मौके पर गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि स्टेडियम शानदार बना है। भिलाई में बेहतर खेल अधोसंरचना की दिशा में यह प्रमुख भूमिका निभाएगा।

इस मौके पर दुर्ग विधायक अरुण वोरा ने कहा कि यह बहुत अच्छा कार्य राजेश पटेल जी की स्मृति में हुआ है। स्टेडियम के बन जाने से खिलाड़ियों को विशेष सुविधा होगी। इस मौके पर विधायक और महापौर देवेंद्र यादव ने कहा कि स्वर्गीय राजेश पटेल की इच्छा थी कि एक अच्छा बास्केटबॉल का स्टेडियम यहां हो। हमें खुशी है कि उनके नाम पर यहां स्टेडियम का लोकार्पण हो रहा है।

उन्होंने कई बार बेस्ट कोच का सम्मान प्राप्त किया। 67 स्वर्ण पदक उनके सिखाये खिलाड़ियों को मिले। महापौर ने बताया कि अलग-अलग जगहों पर खेल सुविधाओं को बढ़ाने के लिए स्टेडियम तैयार किये जा रहे हैं। उ

न्होंने कहा कि नेशनल खेलने वाले खिलाड़ियों को विशेष डाइट की सुविधा निगम की ओर से उपलब्ध कराई जाएगी। इस संबंध में प्रस्ताव लाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि डेढ़ करोड़ रुपये की लागत से निर्मित इस स्टेडियम में बेल्जियम से आयातित एस्ट्रो ग्रास लगाई गई है। इसमें वर्षों तक संधारण की जरूरत नहीं होगी। वहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर के बास्केटबॉल के दो कोर्ट बनाये गए हैं। यहां खिलाड़ी अपनी प्रतिभा निखार सकेंगे।

Back to top button