छत्तीसगढ़

वरिष्ठ समाजसेवी अनूप चंद कोठारी के निधन पर मुख्यमंत्री ने जताया शोक

सीएम ने ट्विटर पर स्वर्गीय कोठारी के शोक-संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना जाहिर की

रायपुर: निरंतर समाज की सेवा में तत्पर वरिष्ठ समाजसेवी अनूप चंद कोठारी के निधन पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दुःख जताया. उनकी इच्छानुसार मृत्यु के बाद डॉ. भीमराव अंबेडकर स्मृति चिकित्सालय में उनका देहदान किया गया.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्विटर पर स्वर्गीय कोठारी के शोक-संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना जाहिर करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की है. मुख्यमंत्री बघेल ने अपने शोक संदेश में कहा है वे जैन धर्म के विभिन्न धार्मिक आयोजनों में सक्रिय सहभागिता निभाने के साथ ही आजीवन आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की सहायता करते रहे.

श्री विनायक सेवा समिति ने अनूप कोठारी को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए बताया कि वर्ष 2000 में छत्तीसगढ़ में अकाल के कारण कुछ इलाकों में भूखमरी की स्थिति थी, तब अनूपचंद जैन कोठारी ने अन्नदान महादान योजना के जरिए भूखमरी के शिकार लोगों को चावल उपलब्ध करवाते थे, बाद में यह योजना बहुत समय तक मेकाहारा रायपुर में इलाज के लिअ आये मरीजों के गरीब परिजनों के लिये भी चलती रही.

कांग्रेस नेता राजेश बिस्सा ने कहा कि अनूपचंद कोठारी एक साधारण व्यक्ति व असाधारण व्यक्तित्व थे. उन्होंने हर संभव प्रयास किया कि उनकी नजरों में आया कोई भी पीड़ित व्यक्ति अपने को लाचार ना समझे, वे उसका सहारा बन कर खड़े हो जाते थे. इसके लिये उन्होंने सहारा योजना शुरु करवाई थी, इसके तहत लोगों को हर स्तर पर बिना प्रचार-प्रसार किये मदद करना उनका लक्ष्य था.

Tags
Back to top button