करुणानिधि से मिले CM पलानीस्वामी, बोले- उनकी तबीयत ठीक

चेन्नई : डीएमके अध्यक्ष एम. करुणानिधि की तबीयत बिगड़ने के बाद अब उनकी हालत में सुधार बताया जा रहा है. अस्पताल की तरफ से रात में जारी हेल्थ बुलेटिन में करुणानिधि की हालत में सुधार के संकेत की बात कही गई है.

हालांकि अब कहा जा रहा है कि करुणानिधि के बेटे और डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन कावेरी अस्पताल पहुंच चुके हैं. उनके अलावा राज्य के मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री भी अस्पताल पहुंचे.

करुणानिधि से मिलने के बाद मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने कहा, ‘मैं अभी कावेरी अस्पताल में उनसे मिला. वह ठीक हैं और उनकी तबीयत में तेजी से सुधार हो रहा है.’ इससे पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री ए राजा ने करुणानिधि की तबीयत के बार में सोमवार को जानकारी देते हुए बताया था उनकी स्थिति स्थिर है और अभी बेहतर है.

इस बीच तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी ने कोयंबटूर में सोमवार को होने वाली अपनी बैठक रद्द कर दी और वह चेन्नई के लिए लौट गए हैं. वहीं, राज्यभर के डीएमके कार्यकर्ता चेन्नई में जुटने लगे और अस्पताल के बाहर से समर्थकों के रोने की तस्वीरें भी सामने आ रही हैं.

डीएमके के ढेरों कार्यकर्ता अपने नेता के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना करने के साथ-साथ अस्पताल के बाहर जुटे हुए हैं.

समर्थकों से शांति की अपील : एमके स्टालिन ने देर रात बयान जारी कर करुणानिधि की तबीयत के बारे में जानकारी दी. साथ ही उन्होंने पार्टी समर्थकों से अपील की कि वे धैर्य और शांति बनाए रखें ताकि किसी भी तरह की अव्यवस्था पैदा न हो. उन्होंने समर्थकों को बताया कि अचानक उनकी तबीयत बिगड़ी थी, लेकिन इलाज के बाद उनकी स्थिति में सुधार है. कनिमोझी ने भी इंडिया टुडे से बातचीत में बताया कि करुणानिधि की तबीयत अभी स्थिर है.

क्या है मेडिकल बुलेटिन में : कावेरी अस्पताल की तरफ से जारी मेडिकल बुलेटिन में बताया गया है कि करुणानिधि की तबीयत अचानक बिगड़ रही थी, जिसके बाद उनका इलाज किया गया. अस्पताल के मुताबिक, अब उनकी हालत में सुधार के संकेत मिल रहे हैं. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री की देखरेख में डॉक्टरों का पैनल लगा हुआ है.

डीएमके नेता ए. राजा ने मीडिया को बताया था कि करुणानिधि की तबीयत नाजुक हो गई थी, जिसके बाद उनका इलाज किया गया और अब उनकी हालत में सुधार हो रहा है. साथ ही उन्होंने जनता से ये भी आह्वान किया कि किसी तरह की अफवाह पर यकीन न करें.

चेन्नई में करुणानिधि का हाल जानने तमाम बड़े नेता लगातार पहुंच रहे हैं. साथ ही उनके समर्थन भी बड़ी तादाद में अस्पताल के बाहर जमे हुए हैं. अस्पताल के बाहर भीड़ को देखते हुए पुलिस को लाठी चार्ज करनी पड़ी है. करुणानिधि का परिवार भी अस्पताल में है. फिलहाल, बाहरी लोगों को कावेरी अस्पताल से बाहर जाने को कहा गया है, जबकि पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं.

कावेरी अस्पताल जहां करुणानिधि भर्ती हैं वहां उनके समर्थकों की भीड़ जमा है, और नेताओं का हालचाल जानने वाला का तांता लगा हुआ है. इससे पहले दिन में उपराष्ट्रपति एम वेकैंया नायडू करुणानिधि का हाल जानने अस्पताल पहुंचे थे. द्रमुक ने एक बयान में कहा कि नायडू के साथ राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित भी थे. उन्होंने चिकित्सकों से बात की.

नायडू ने अस्पताल में करुणानिधि के बेटे और द्रमुक नेता एम. के. स्टालिन से भी मुलाकात की. वहीं, शनिवार रात अस्पताल ने बताया कि करुणानिधि की हालत स्थिर है और उन्हें सक्रिय चिकित्सा सहायता मिल रही है.

बता दें कि 94 वर्षीय नेता को शनिवार रात 1.30 बजे रक्तचाप में गिरावट के बाद अस्पताल के गहन चिकित्सा कक्ष (आईसीयू) में भर्ती कराया गया है. इलाज के बाद उनका रक्तचाप स्थिर हो गया है. द्रमुक के प्रवक्ता टी. के. एस. एलंगोवन ने शनिवार को कहा कि करुणानिधि को दो दिन और अस्पताल में रहना पड़ेगा.

Back to top button