कोविड के विरुद्ध लड़ाई में मुख्यमंत्री ने राधा स्वामी सत्संग ब्यास से मांगा सहयोग

सत्संग की अलग-अलग शाखाओं में अधिकृत प्रतिनिधियों के साथ तालमेल बनाने का आदेश

जालंधर: पंजाब में कोविड के विरुद्ध लड़ाई में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राधा स्वामी सत्संग ब्यास से सहयोग मांगा है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने सभी डिप्टी कमिश्नरों को भी इस संबंध में सत्संग की अलग-अलग शाखाओं में अधिकृत प्रतिनिधियों के साथ तालमेल बनाने का आदेश दिया।

डेरा ब्यास के प्रमुख गुरिंदर सिंह ढिल्लों को लिखे पत्र में मुख्यमंत्री ने उन्हें कोविड मरीजों के इलाज के लिए सभी शाखाएं उपलब्ध करवाने और इस उद्देश्य के लिए अटेंडेंट तैनात करने की भी अपील की है। उन्होंने डेरा ब्यास के प्रमुख को राज्य में कोविड प्रभावित लोगों के लिए दवाएं और अन्य राहत सामग्री के रूप में सहायता देने की भी विनती की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भले ही राज्य सरकार ‘मिशन फतेह’ के अंतर्गत कोविड मरीजों के बेहतर इलाज को यकीनी बनाने के प्रयास कर रही है लेकिन लगातार बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर धार्मिक संस्थाओं, गैर-सरकारी संस्थाओं और अन्य ऐसी जत्थेबंदियों के व्यापक सहयोग की जरूरत है।

मुख्यमंत्री ने बीते साल राज्य की कोविड के विरुद्ध जंग में राधा स्वामी सत्संग ब्यास की शानदार सेवाओं का जिक्र करते हुए कहा कि इससे हालात को स्थिर बनाने में मदद मिली थी। उन्होंने कहा कि इस साल महामारी और भी घातक और जानलेवा है, जिस कारण इससे निपटने के लिए डेरे की सहायता की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों ने भी चेतावनी दी है कि आगामी लहर और भी खतरनाक होगी, जिस कारण सभी के साझे प्रयासों की जरूरत है, ताकि ‘मिशन फतेह’ की सफलता को यकीनी बनाया जा सके।

बता दें पंजाब में शनिवार को फिर रिकॉर्ड संक्रमित मिले हैं। 24 घंटे में संक्रमण के 9100 नए मामले सामने आए हैं। 21 जिलों में 171 मरीजों ने संक्रमण से दम तोड़ दिया। 288 संक्रमितों की हालत गंभीर बनी हुई है, जिन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है। अस्पताल में भर्ती 9086 संक्रमितों को सांस लेने में परेशानी होने पर ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है।

पंजाब में स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 7707585 लोगों के नमूने लिए जा चुके हैं, जिनमें 433689 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 351426 संक्रमित स्वास्थ्य लाभ लेकर ठीक हो चुके हैं। 71948 सक्रिय मामले पहुंच गए हैं। पंजाब में अब तक संक्रमण से 10315 की मौत हो चुकी है।

शनिवार को हुई 177 मौतों में अमृतसर में 13, बरनाला में 1, बठिंडा में 17, फरीदकोट में 1, फाजिल्का में 9, फिरोजपुर में 3, फतेहगढ़ साहिब में 3, गुरदासपुर में 5, होशियारपुर में 7, जालंधर में 11, लुधियाना में 19, कपूरथला में 4, मानसा में 3, मोहाली में 10, मुक्तसर में 17, पठानकोट में 10, पटियाला में 13, रोपड़ में 4, एसबीएस नगर में 3, संगरूर में 11 और तरनतारन में 7 शामिल हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button