मध्यप्रदेश

महाकाल दर्शन को पहुँचे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, कटाई 3000 की रसीद

करीब 20 मिनट तक गर्भगृह में पूजा करने के बाद वे नंदी हॉल में आए और नंदीजी के कान में मन की मुराद मांगी।

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने शुक्रवार को सपरिवार महाकाल की पूजा-अर्चना की। इसके लिए उन्होंने 3000 रुपए देकर दो रसीद भी कटाई।

महाकाल दर्शन के बाद उन्होंने परिसर स्थित माता भद्रकाली, सिद्धिविनायक गणेश, साक्षी गोपाल के भी दर्शन किए। परिवार के साथ महंत प्रकाशपुरीजी से मिलने भी पहुंचे।

दोपहर 2.30 बजे परिवार के साथ महाकाल मंदिर पहुंचे मुख्यमंत्री ने पुजारी प्रदीप गुरु के आचार्यत्व में भगवान महाकाल का पंचामृत अभिषेक कर महारुरूद्र पूजन किया।

उनके साथ पत्नी साधनासिंह और दोनों बेटे भी थे। करीब 20 मिनट तक गर्भगृह में पूजा करने के बाद वे नंदी हॉल में आए और नंदीजी के कान में मन की मुराद मांगी।

सहायक प्रशासनिक अधिकारी दिलीप गरुड़ ने बताया कि प्रवेश बंद के दौरान गर्भगृह में जाकर भगवान महाकाल की पूजा-अर्चना करने के लिए दो व्यक्तियों को 1500 रुपए की रसीद कटानी होती है।

मुख्यमंत्री परिवार के साथ आए थे, इसलिए चार लोगों के लिए उन्होंने नियमानुसार 3000 रुपए देकर दो रसीद कटाई।<>

 

Summary
Review Date
Reviewed Item
महाकाल दर्शन को पहुँचे मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, कटाई 3000 की रसीद
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags