गांधी जयंती के अवसर पर मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना का किया गया शुभारम्भ

धमतरी. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर आज प्रदेश सहित जिले में भी मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना का शुभारम्भ किया गया. योजना के तहत शहर के सभी 40 वार्डों में चलित चिकित्सा इकाई (चलित रथ) का भ्रमण कराया जाएगा, जिसमें विभिन्न प्रकार की बीमारियों का विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा मौके पर उपचार किया जाएगा. स्थानीय बांसपारा वार्ड के सामुदायिक भवन में आयोजित कार्यक्रम में चिकित्सा रथ को महापौर श्रीमती अर्चना चैबे ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया. इस अवसर निगम के सभापति श्री राजेन्द्र शर्मा, जनपद पंचायत धमतरी की अध्यक्ष श्रीमती प्रियंका सिन्हा सहित पार्षदगण उपस्थित थे.

मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डी.के. तुर्रे ने बताया कि मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के तहत चिकित्सीय सुविधायुक्त चलित रथ (वैन) में मौके पर ही विभिन्न व्याधियों का उपचार किया जाएगा, जिसमें मातृ-शिशु स्वास्थ्य सेवान्तर्गत स्वास्थ्य परीक्षण, महिलाओं की प्रसव-पूर्व जांच, टीकाकरण, चिकित्सकीय परामर्श, आउटरीच सेवाएं, मौसमी बीमारियों का उपचार सहित दवा वितरण, सामान्य रोगों का निःशुल्क दवा वितरण, परिवार नियोजन सहित विभिन्न स्वास्थ्य परामर्श के अलावा आपातकालीन रेफरल सेवाएं भी उक्त रथ में शामिल रहेंगी. उन्होंने यह भी बताया कि इसके अंतर्गत कुपोषण की स्थिति के संबंध में भी बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर अभिभावकों को वस्तुस्थिति की जानकारी भी दी जाएगी एवं चिकित्सा रथ में पैथोलाॅजिकल टेस्ट की भी सुविधा मुहैय्या कराई गई है. उक्त रथ को नगरपालिक निगम धमतरी के सभी 40 वार्डों मंे भ्रमण कराया जाएगा.

इसके पहले, कलेक्टर बंसल ने कुष्ठ उन्मूलन रैली एवं चर्मरोग जागरूकता अभियान रैली को स्थानीय इतवारी बाजारी चैक के समीप स्थित शहरी स्वास्थ्य केन्द्र में हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया, जिसमें विभिन्न नर्सिंग काॅलेज की छात्राएं, कौशल विकास की प्रशिक्षु छात्राओं सहित शहर के रिक्शा चालकों ने हिस्सा लिया. रैली गांधी चैक, सदर बाजार मार्ग, घड़ी चैक, सिहावा चैक होती हुई बस स्टैण्ड में समाप्त हुई. छात्राओं ने इस दौरान नगरवासियों को पाॅम्पलेट भी वितरित किए, जिसमें कुष्ठ रोग के संबंध में भ्रातियां एवं तथ्य तथा जनजागरूकता से संबंधित नारों का उल्लेख था.

Tags
Back to top button