राष्ट्रीय

एक महीने तक किसी से भी व्यक्तिगत रूप से मुलाकात नहीं करेंगे मुख्यमंत्री

गहलोत के एक महीने के सभी मुलाकात कार्यक्रम स्थगित कर दिए

जयपुर: कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से बचाव के उद्देश्य से चिकित्सकों की सलाह के अनुसार राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आगामी एक महीने तक आमजन सहित अन्य सभी लोगों से व्यक्तिगत या सामूहिक रूप से मुलाकात नहीं करने का निर्णय किया है। इस दौरान वे सिर्फ वीडियो कांफ्रेंस के जरिए उपलब्ध होंगे।

एक सरकारी बयान के अनुसार, गहलोत ने कहा है कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण से बचाव के लिए दो गज की दूरी और स्वास्थ्य संबंधी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन ही मुख्य उपाय है। खुद का बचाव खुद करके ही इस संक्रमण को नियंत्रित किया जा सकता है। गहलोत के एक महीने के सभी मुलाकात कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं।

गौरतलब है कि पिछले दिनों मुख्यमंत्री निवास व कार्यालय में भी लगभग 40 कार्मिक तथा मुख्यमंत्री सुरक्षा से जुडे़ पुलिसकर्मी एवं आरएसी के जवान के संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या मंगलवार रात तक 94126 हो गई, जिनमें से 15090 रोगी उपचाराधीन हैं। वहीं राज्य में इस घातक वायरस से अब तक 1164 लोगों की मौत हो चुकी है।

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा है कि कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के संकट के इस दौर में प्रदेश वासियों के जीवन की रक्षा सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसके लिए राज्य सरकार चिकित्सा सुविधाओं के विस्तार एवं सुदृढ़ीकरण के साथ ही हरसंभव प्रयास कर रही है।

इस महामारी को सबकी भागीदारी से ही रोका जा सकता है। उन्होंने प्रदेशवासियों से अपील है कि मास्क लगाएं, दो गज की दूरी रखें, भीड़ से बचें, सामाजिक मेल-जोल कम से कम रखें, आवश्यकता होने पर ही घर से निकलें और स्वास्थ्य संबंधी अन्य दिशा-निर्देशों का पूरी जिम्मेदारी से पालन करें।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button