छत्तीसगढ़

मुख्य सचिव अजय सिंह ने  लिया राज्योत्सव की तैयारियों का जायजा

-उद्योग-व्यापार परिसर में एक नवम्बर को शुरू होगा तीन दिवसीय आयोजन 

रायपुर।

मुख्य सचिव अजय सिंह ने आज शाम यहां ग्राम तूता स्थित डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी उद्योग एवं व्यापार परिसर में राज्योत्सव 2018 की तैयारियों का जायजा लिया। आयोजन की तैयारियां लगभग पूर्णता की ओर हैं। छत्तीसगढ़ प्रदेश स्थापना दिवस की 18वीं वर्षगाठ पर राज्योत्सव एक नवम्बर से तीन नवम्बर तक आयोजित किया जाएगा।

अजय सिंह ने सम्पूर्ण परिसर के अवलोकन के बाद आयोजन स्थल पर सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ली और तीन दिवसीय सुव्यवस्थित आयोजन के लिए विभागवार सौंपी गई जिम्मेदारियों की समीक्षा की।

मुख्य सचिव के स्थिल निरीक्षण के दौरान अपर मुख्य सचिव आर.पी. मंडल सहित सभी संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। श्री अजय सिंह ने आयोजन स्थल पर आम जनता की सुविधा के लिए यातायात और पार्किंग व्यवस्था, बिजली व्यवस्था, मुख्य मंच और सांस्कृतिक कार्यक्रमों के मंच निर्माण, शिल्पग्राम निर्माण, सुरक्षा व्यवस्था, दर्शकों की बैठक व्यवस्था, आयोजन के दौरान जनता के लिए स्वच्छ पेयजल, प्राथमिक उपचार और अग्निशमन व्यवस्था के बारे में भी अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए।

मुख्य सचिव अध्यक्षता में तैयारियों के लिए आयोजित बैठक में बताया गया कि राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एक नवम्बर को शाम सात बजे तीन दिवसीय छत्तीसगढ़ राज्योत्सव का शुभारंभ करेंगी। समापन समारोह के मुख्य अतिथि छत्तीसगढ़ लोक आयोग के प्रमुख लोक आयुक्त न्यायमूर्ति श्री टी.पी. शर्मा होंगे। समापन समारोह में तीन नवम्बर को शाम 7.30 बजे आयोजित किया जाएगा।

अधिकारियों ने बैठक में बताया कि इस वर्ष विधानसभा के आम चुनाव की आचार संहिता का पालन करते हुए राज्योत्सव के अवसर पर शासकीय विभागों की प्रदर्शनी आयोजित नहीं की जाएगी। केवल व्यापार मेला और सांस्कृतिक कार्यक्रमों को ही राज्योत्सव में शामिल किया गया है। व्यापार मेले में औद्योगिक और वाणिज्यिक प्रतिष्ठानों तथा हस्तशिल्पियों द्वारा अपनी वस्तुओं का प्रदर्शन किया जाएगा, जो उचित मूल्य पर बिक्री के लिए उपलब्ध रहेंगी।

साथ ही पुस्तक मेले का भी आयोजन किया जाएगा। परिसर में खान-पान और फन फेयर आदि खण्ड भी होंगे। राज्योत्सव में सांस्कृतिक कार्यक्रमों के लिए शाम छह बजे से रात्रि दस बजे तक का समय निर्धारित किया गया है। इस दौरान राज्योत्सव के शुभारंभ अवसर पर रात्रि आठ बजे के बाद आतिशबाजी का कार्यक्रम भी होगा।

राज्योत्सव स्थल पर शिल्पग्राम के अंतर्गत 34 स्टाल लगाए जाएंगे, जिनमें हस्तशिल्प और माटीकला बोर्ड की ओर से शिल्पकारों द्वारा अपने-अपने स्टालों में कलाकृतियों के निर्माण का प्रत्यक्ष प्रदर्शन भी किया जाएगा। मुख्य सचिव के साथ आज आयोजन स्थल निरीक्षण के दौरान ग्रामोद्योग विभाग के सचिव हेमंत पहारे, बीज निगम के प्रबंध संचालक आलोक अवस्थी, वाणिज्य और उद्योग विभाग के विशेष सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह, संचालक जनसम्पर्क चन्द्रकांत उइके और संस्कृति विभाग के संचालक तारण प्रकाश सिन्हा सहित अन्य संबंधित वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Summary
Review Date
Reviewed Item
मुख्य सचिव अजय सिंह ने  लिया राज्योत्सव की तैयारियों का जायजा
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt