बालोद ठेकेदार हत्याकांड का खुलासा, घर में काम करने वाली युवती ने रची थी साजिश

बालोद।

प्रतिष्ठित व्यापारी व माइंस ठेकेदार 56 वर्षीय सुनील कुमार लोढ़ा के हत्यारे पुलिस पकड़ में आ गए हैं। हाई प्रोफाइल हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस ने गुरुवार को बताया कि वारदात को ओडिसा के गैंग ने अंजाम दिया था। लूट के बाद हत्या करने वाले सातों आरोपियों को संबलपुर से गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में मुख्य आरोपी महिला भी पुलिस गिरफ्त में है।

बाई ने रची थी साजिश

बालोद के प्रतिष्ठित ठेकेदार सुनील कुमार के यहां घरेलू काम करने वाली बाई ने लूट की साजिश रची थी। इसके लिए उसने ओडिसा से बकायदा लुटेरों के गैंग को बुलाया था। पुलिस ने बताया कि आरोपी युवती की साजिश को अंजाम देने ओडिसा से लुटेरे आए थे। लूट के बाद मृतक के जागने की आहट मिलते ही उसे मौत के घाट उतार दिया था।

25 की सुबह मिली थी लाश

ठेकेदार सुनील की लाश 25 नवंबर की सुबह उनके घर पर ही मिली थी। हत्यारों ने शातिर तरीके से हाथ-पैर बांधने के बाद धारदार हथियार से मौत के घाट उतार दिया था। घटना की गंभीरता को देखते हुए दुर्ग रेंज आईजी जीपी सिंह स्वयं घटना स्थल पहुंचे थे।

बालोद एसपी आईके एलेसेला के नेृतत्व में बालोद सिटी कोतवाली टीआई महंत परिहार, भिलाई क्राइम ब्रांच सब इंस्पेक्टर राजेश मिश्रा सहित पुलिस की टीम ने आरोपियों को पकडऩे में बड़ी सफलता मिली है।

1
Back to top button