हमर पुलिस हमर संग के साथ बाल संरक्षण कार्यक्रम

रवि सेन

बागबाहरा।

पुलिस अधीक्षक सन्तोष कुमार सिंह के दिशानिर्देशन में जिले के समस्त विद्यालयों एवं महाविद्यालयों में बच्चों की सुरक्षा के उद्देश्य से बाल संरक्षण कार्यशाला का आयोजन क्रमशः किया जा रहा है। इसी तारतम्य में थाना प्रभारी दीपेश जायसवाल के नेत्तृत्व में पुलिस बाल मित्र के द्वारा शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय कोमाखान में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के मुख्यातिथि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वेदव्रत सिरमौर द्वारा मां सरस्वती को दीप प्रज्वलित कर किया।इस अवसर पर विद्यालय ,एवम आदिवासी कन्या आश्रम की बालिकाओं द्वारा मनमोहक पारम्परिक नृत्यों ने मनमोहक प्रस्तुति दी।

अपने उद्बोधन में सिरमौर जी ने लक्ष्य प्राप्ति के लिये लगन से शिक्षा ग्रहण कर सभ्य नागरिक बन भारत माता की जय करने कर प्रेरणा दी। टी आई जायसवाल द्वारा स्वच्छ वातावरण व अपराधमुक्त समाज के निर्माण में पुलिस का योगदान के लिए आह्वान किया,उन्होंने 112 एवम शिकायत पेटी का महत्व पर प्रकाश डाला।बालमित्र रोशना डेविड द्वारा साइबर क्राइम व ए टी एम धोखाधड़ी की जानकारी व बचाव के तरीकों पर चर्चा की,तथा उद्देश्यपूर्ण शिक्षा के लिए प्रोत्साहित किया।

बालमित्र अन्नू भोई ने बालिकाओ को सेल्फ डिफेंस की जानकारी देते हुए गुड टच बेड टच की जानकारी के साथ यातायात नियमो से परिचित करते हुए जीवन अनमोल का नारा दिया।कार्यक्रम का संचालन रूपेश तिवारी ने बौद्धिक क्षमता निर्माण के लिए टिप्स दिए।इस अवसर पर पुलिस द्वारा कोमाखान के सभी विद्यालय के 30 प्रतिभावान छात्र/छात्राओ को पुरस्कृत किया गया।

शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने वाले यमुना ध्रुव, विजय शर्मा को मोमेंटो से सम्मानित किया गया।कार्यक्रम में शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय कोमाखान ,प्राथमिक शाला लुकुपाली,सरस्वती विद्यामन्दिर,गुरुकुल विद्यापीठ, आदिवासी कन्याश्रम कोमाखान की लागभग 1000 बच्चों ने भाग लेकर कार्यक्रम का लाभ लिया।

new jindal advt tree advt
Back to top button