छत्तीसगढ़जॉब्स/एजुकेशन

पढ़ई तुंहर दुआर, मोहल्ला कक्षा और बुलटु के बोल को बच्चे और अभिभावक भी कर रहे पसंद

हिमांशु सिंह ठाकुर:- ब्यूरो रिपोर्ट कवर्धा।

कवर्धा :-कोरोना वायरस का नाम सुनते आज भी उनका संक्रमण का डर लोगों के दिलों-दिमाग में घर कर गया है। इस वैश्विक महामारी के संक्रमण से बचाव और उनके प्रभावी रोकथाम के उपायों के तहत देश दुनिया में लॉकडाउन किया गया। इसका असर देश की नगरों से लेकर गांव तक देखा गया। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए स्कूल, कॉलेज, सिनेमा हाल, हवाई यात्रा से लेकर बस यात्रा, परिवहन पर प्रतिबंध लगाया गया। इस विपदा की घड़ी में स्कूल कॉलेज में अध्यनरत विद्यार्थियों को शिक्षा की मुख्य धारा से निरंतर जोड़ने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के मंशानुरूप छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा ”पढ़ई तुंहर दुआर” कार्यक्रम संचालित किए गए। ”पढ़ई तुंहर दुआर” कार्यक्रम का कबीरधाम जिले में अभतपूर्व उत्साह देखने को मिल रहा है। इस कार्यक्रम के तहत चार अलग-अलग कक्षाएं संचालित हो रही है। इसके तहत ऑनलाईन क्लास, मोहल्ला क्लास, लाउडस्पीकर के माध्यम से पढ़ाई तथा बुलटु के बोल के माध्यम से बच्चों को शिक्षा से जोड़ा जा रहा है। जिले में जहां नेटवर्क है तथा जिन विद्यार्थियों के पास स्मार्ट मोबाईल है वहां ऑनलाईन कक्षाएं संचालित हो रही है। जहां नेटवर्क की समस्या है अथवा जिन बच्चों के पास स्मार्ट मोबाईल नहीं है ऐसे विद्यार्थियों को शिक्षा से जोड़ने के लिए मोहल्ला क्लास संचालित किए जा रहे है।

कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने बताया कि कोविड-19 कोरोना वायरस के इस संक्रमण काल में विद्यार्थियों को इसके संक्रमण से बचाव के उपायों के तहत विद्यार्थियों को पढ़ाई से जोड़ने के लिए ”पढ़ई तुंहर दुआर” कार्यक्रम संचालित किए जा रहे है। इस कार्यक्रम को लेकर कबीरधाम जिले के स्कूली बच्चों और शिक्षकों के साथ-साथ अभिभावकों में भी अभूतपूर्व उत्साह देखने को मिल रहा है। कबीरधाम जिले में अब तक 1 लाख 75 हजार 914 ऑनलाइन क्लास ली गई है, जिसमे लगभग 10 हजार बच्चे जुड़ चुके है। इसी प्रकार प्रतिदिन डेढ़ हजार से अधिक मोहल्ला कक्षा संचालित हो रही है, जिसमे प्रतिदिन 30 हजार आए अधिक बच्चे शामिल हो रहे है। कलेक्टर श्री शर्मा ने कोविड-19 के इस संक्रमण के दौर में शिक्षक के साथ-साथ एक कोरोना वारियर्स की भूमिका निभाने वाले शिक्षा विभाग के सभी शिक्षक-शिक्षिकाओं को बधाई दी है।

जिला शिक्षा अधिकारी के. एल. महिलांगे ने बताया कि कबीरधाम जिले के चारों विकासखंड कवर्धा, बोड़ला सहसपुर लोहारा, पंडरिया में कार्यरत शिक्षकों द्वारा प्रतिदिन ऑनलाइन क्लास लिया जा रहा है साथ ही विभिन्न क्षेत्रों में पढ़ई तुंहर दुआर अंतर्गत मोहल्ला क्लास के द्वारा पढ़ाई कराई जा रही है। जिसमें जिले में अब तक संचालित कुल 1 लाख 75 हजार 914 कक्षा में प्रतिदिन औसतन 9 हजार 150 विद्यार्थियों को लाभ मिल रहा है। इसी प्रकार प्रतिदिवस संचालित 1 हजार 550 मोहल्ला कक्षा में 31 हजार 960 विद्यार्थियों को लाभ मिल रहा है। 169 शिक्षकों द्वारा 281 गांव में लाउडस्पीकर कक्षा संचालित किया जा रहा है, इसमें औसतन 4 हजार 951 बच्चे लाभान्वित हो रहे है साथ ही 99 शिक्षकों द्वारा हाट बाजारों में जाकर बुलटू के बोल के माध्यम से 368 बच्चों को एप्प प्रदान किया गया जिससे लाभान्वित छात्रों की संख्या 5 हजार 431 है। सभी शिक्षक अपने कर्त्तव्यों का निर्वहन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि जिले में कार्यरत शिक्षक प्रतिभा के धनी है वे पढ़ाई के साथ ही खेल, पर्यावरण, स्वच्छता तथा योग ध्यान के कक्षाओं का भी संचालन कर रहे है। वर्तमान में कई गांवों में शिक्षित युवकों द्वारा भी बच्चों के विकास हेतु स्वस्फूर्त कक्षा का संचालन कर शिक्षा सारथी के रूप में सहयोग प्रदान कर रहे है।

जिला नोडल अधिकारी यू. आर. चंद्राकर ने बताया कि जिले में अप्रैल माह से ही मोबाइल के माध्यम से पढ़ाई के लिए निर्देश प्राप्त होते ही जिला मीडिया प्रकोष्ठ का गठन कर दिया गया। मीडिया प्रकोष्ठ में मुन्नववर बेग, मोहन शर्मा, गजराज सिंह, भानू प्रताप सिंह व प्रशान्त विश्वकर्मा सक्रिय रूप से निरंतर माह अप्रैल से ही पढ़ई तुंहर दुआर, मोबाईल कक्षा, लाउडस्पीकर कक्षा संचालन में जिले में कार्यरत शिक्षकों का ऑनलाइन प्रशिक्षण तथा मीडिया में विशेष रूप से सहयोग प्रदान कर रहे है। उन्होने बताया कि जिले के शिक्षक रवि कुमार वर्मा, राजर्षि पांडेय, परमेश्वर सोयाम और शिक्षिका कुमारी मोनू गुप्ता ने शिक्षा के गोठ पत्रिका में अपनी जगह बना कर जिले का गौरव बढ़ाया है । रवि कुमार वर्मा ने सर्वाधिक ऑनलाइन कक्षा का संचालन कर नायक के रूप में वेबसाइट में अपनी जगह बनाई है। आज जिले की स्थिति पूरे राज्य में बहुत अच्छी है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button