छत्तीसगढ़/ क्वारेंटिंन से बच्चे अपने घर रवाना

कन्या छात्रावास में 14 दिन क्वारेंटिंन में रखे कोटा के 15 बच्चों को आज उसके घर रवाना किया गया।

आलोक मिश्रा ब्यूरो हेड बलौदाबाजार

बलौदाबाजार- जिला मुख्यालय में स्थित कन्या छात्रावास में 14 दिन क्वारेंटिंन में रखे कोटा के 15 बच्चों को आज उसके घर रवाना किया गया।

जिला पंचायत के सीईओ आशुतोष पांडे और एसडीएम लवीना पांडे ने पूरे समय इन बच्चों के स्वास्थ्य और खाने-पीने सहित सुविधाओं का खास ध्यान रखे जाने की बात कही जिससे बच्चों में घर जैसा माहौल महसूस करने की भी बात कही,सभी ने जिला प्रशासन व्यवस्था को सराहा एवं प्रत्येक बाहरी व्यक्ति को 14 दिन की क्वारेंटिंन में रहने की बात कही ।

जिससे उनके परिवार व देश कोरोना महामारी की चपेट में न आये।

आज जिला मुख्यालय के कन्या छात्रावास में 14 दिन की क्वारेंटिंन में रखे कोटा राजस्थान के बच्चियों को उनके घर जिला प्रशासन द्वारा भिजवाया गया। ये बच्चे कोटा राजस्थान से पहले कवर्धा जिला के समीप चिल्फी में रुके थे जिसे शासन के निर्देशन में बलौदाबाजार मुख्यालय लाया गया था। सभी 15 बच्चीयों का पहले यहां सेम्पल लिया गया और एम्स रायपुर टेस्ट के लिए भेज गया। साथ ही सभी को 14 दिन की क्वारेंटिंन में रखा गया था। जिनके टेस्ट निगेटिव आया था।

बच्चों ने मीडिया से कहा

तत्पश्चात आज जिला प्रशासन ने सभी 15 बच्चों को उनके गंतब्य स्थान को रवाना किया गया। वही बच्चों ने 14 दिन की इस कोरोना के चलते क्वारेंटिंन को प्रशासन की बहुत ही सही कदम बताया। बच्चों ने मीडिया से कहा कि 14 दिन तक जिला प्रशासन ने ओ सभी सुविधाएं दी जो घर मे होती है। और आम जनता को कोरोना महामारी का संदेश देते हुए सभी ने कहा कि यदि हम घर से बाहर है और हमे घर वापसी होना है तो क्वारेंटिंन का पालन करना अत्यंत आवश्यक है। इससे हमारे साथ हमारे पालक एवम पूरे देश कोरोना जैसे बीमारी से डटकर लड़ सकते है। इसमें कोई दो रे नही है। हैम सभी जिला प्रशासन का आभारी है। जो हमे 14 दिन तक अपने बच्चों जैसे देख रेख में रखा।

Tags
Back to top button