हार के बाद चीन ने किया अमेरिका से समझौता

वॉशिंगटनः दुनिया की दो महाशक्तियों अमरीका और चीन के बीच ट्रेड वॉर फिलहाल टल गया है। दोनों देशों ने एक समझौता किया है जिसके तहत चीन अब अमरीका से आयात बढ़ाएगा। इस समझौते का मतलब साफ है कि चीन ने अमरीका के आगे घुटने टेक दिए हैं। इस फैसले के बाद कंपनियों ने राहत की सांस ली है। चीन ने अमरीका के अागे झुकते हुए ट्रेड डेफिसिट घटाने के लिए अमरीका से आयात बढ़ाने की सहमति दे दी है।

चीन इस ट्रेड डेफिसिट को घटाकर 375 मिलियन डालर पर लाएगा। दोनों देशों ने कहा है कि पेटेंट कानून संरक्षण को काफी अहमियत देते हैं और दोनों के बीच इस मामले में सहयोग को बढ़ावा देने पर सहमति भी बनी है। अमरीका में हो रही दूसरे दौर की वार्ता के बाद दोनाें देशों की तरफ से एक संयुक्‍त बयान जारी किया गया है, जिसमें बताया गया है दोनों देश इस बात पर सहमत हैं कि ट्रेड वार को नहीं बढ़ाएंगे।

चीनी प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व शी के विशेष दूत और उपराष्ट्रपति लियू ही ने किया जबकि अमरीकी अधिकारियों में वित्त सचिव स्टीवन म्नूचिन, वाणिज्य सचिव विल्बर रॉस और व्यापार प्रतिनिधि रॉबर्ट लाइथाइजर शामिल थे। अमरीका ने चीन को धमकी देते हुए कहा था कि वह ट्रेड डेफिसिट को 100 बिलियन डालर का ट्रेड डेफिसिट को एक महीने के अंदर घटाए और 2020 तक 200 बिलियन डालर का ट्रेड डेफिसिट घटाए। अमरीका ने कहा था कि अगर ऐसा नहीं होता है तो चीन के खिलाफ और कड़े कदम उठाए जाएंगे।

new jindal advt tree advt
Back to top button