अंतर्राष्ट्रीयराष्ट्रीय

डोकलाम विवाद को पीछे छोड़ भारत संग रिश्तों को आगे बढ़ाने पर काम कर रहा है चीन

कोलकाता: चीन और भारत डोकलाम प्रकरण को पीछे छोड़कर अपने संबंधों को आगे बढ़ाने के लिये साथ मिलकर काम कर रहे हैं. चीनी महावाणिज्य दूत मा झानवु ने यह भी कहा कि साथ मिलकर काम करने से सहयोग और आदान-प्रदान को आगे बढ़ाया जा सकता है. झानवु ने चीनी गणराज्य की स्थापना की 68 वीं वर्षगांठ पर शुक्रवार (22 सितंबर) रात यहां आयोजित एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘भारत और चीन साथ मिलकर काम कर रहे हैं. इस संबंध को कैसे आगे बढ़ाया जाए इसपर चर्चा करने के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शीन चिनफिंग की पांच सितंबर को बैठक हुई थी.’’

उन्होंने कहा, ‘‘जितना दोनों देश मिलकर काम करेंगे, हम उतना ही आदान-प्रदान और सहयोग को बढ़ाने और विकसित करने में सक्षम होंगे.’’ यह पूछे जाने पर कि क्या दोनों देशों ने डोकलाम प्रकरण को पीछे छोड़ दिया है तो झानवु ने कहा, ‘‘हां, हमने पीछे छोड़ दिया है और द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने के लिये साथ मिलकर काम कर रहे हैं.’’ प्रधानमंत्री मोदी ने गत पांच सितंबर को नवें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से इतर राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मुलाकात की थी.

दोनों नेताओं ने सहमति जताई थी कि दोनों देशों को अपने सुरक्षाकर्मियों के बीच सहयोग को मजबूत बनाने और डोकलाम जैसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं हो इस बात को सुनिश्चित करने के लिये और प्रयास करने चाहिये.

चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच गत 16 जून से सिक्किम सेक्टर के डोकलाम इलाके में तनातनी चल रही थी जब भारतीय सैनिकों ने चीनी सेना को उस इलाके में सड़क बनाने से रोक दिया था. गत 28 अगस्त को भारतीय विदेश मंत्रालय ने घोषणा की कि नयी दिल्ली और बीजिंग ने विवादास्पद डोकलाम क्षेत्र से अपने-अपने सैनिकों को हटाने का फैसला किया है.

china, india, Doklam, डोकलाम, भारत, चीन

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.