चॉकलेट बुजुर्गो में संज्ञानात्मक कौशल बढ़ाने में मददगार

चॉकलेट खाने से बुजुर्गो के संज्ञानात्म कौशल में सुधार आ सकता है. इससे उनकी याददाश्त और दूसरी मानसिक गड़बड़ियां दूर हो सकती हैं. एक शोध में कहा गया है कि चॉकलेट के फायदे का कारण इसमें मौजूद कोका बीन है, जो इसका मुख्य घटक है और फ्लावनोल्स का एक अच्छा स्रोत है. फ्लावनोल्स एक तरह का प्राकृतिक तत्व है, जो तंत्रिकाओं की सुरक्षा करता है.

शोध में पता चला है कि बुजुर्गो में जो रोजाना कोका फ्लावनोल्स लेते हैं, उनके सामान्य संज्ञान, ध्यान व याददाश्त वाले कार्यो में सुधार देखा गया. इटली के एलक्यूविला विश्वविद्यालय की वेलिंटिना सोकी ने कहा कि यह शोध कोका फ्लावनोल्स का समय के साथ कमजोर होती बुजुर्गो की संज्ञानात्मक क्षमता में सुधार के लिए इस्तेमाल का सुझाव देता है.

Back to top button