ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के आरोपी नवनीत कालरा के खिलाफ सर्कुलर जारी

नवनीत कालरा ने दिल्ली के साकेट कोर्ट में गिरफ्तारी से बचने के लिए अर्जी दायर की अग्रिम जमानत

नई दिल्ली:राजधानी दिल्ली में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के बड़े खेल का खुलासा हुआ. इस पूरे मामले के तार लंदन से जुड़े हुए मिले. दिल्ली के व्यापारी नवनीत कालरा के साथ सांठ-गांठ करके करोड़ों रुपये का फ्रॉड किया गया.

इस मामले की जांच अब क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है. वहीं मामले की परतें खुलने के बाद फरार हुए नवनीत कालरा का अभी तक कोई सुराग नहीं लग पा रहा है. विदेश भागने के इनपुट के बाद पुलिस ने लुकआउट सर्कुलर जारी किया है. इस बीच नवनीत कालरा ने दिल्ली के साकेट कोर्ट में गिरफ्तारी से बचने के लिए एक दांव चला है. उसने अग्रिम जमानत अर्जी दायर की है.

पिछले दिनों ही नवनीत कालरा के खान मार्केट स्थित तीन रेस्टोरेंट पर छापेमारी मारकर पुलिस ने सैकड़ों ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किया था. इन ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी की जा रही थी.

नवनीत कालरा के फार्म हॉउस के गार्ड ने खुलासा किया था कि फार्म हॉउस पर रेड से पहले वह (कालरा) अपनी 2 लग्जरी कार में परिवार समेत फार्म हाउस से फरार हो गया था. कालरा की तलाश में दिल्ली पुलिस की कई टीम लगी हुई है और जगह-जगह छापेमारी की जा रही है.

कहां छिपा है ऑक्सीजन की कालाबाजारी का मास्टरमाइंड?

पिछले दिनों ही दिल्ली पुलिस ने खान मार्केट वाले खान चाचा रेस्टोरेंट से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बरामद किए थे. इसके बाद जब क्राइम ब्रांच की टीम ने रेस्टोरेंट मालिक नवनीत कालरा की तलाश शुरु की तो सांसों का सौदागर अपने इसी फार्म हाउस से पूरे परिवार के साथ फरार हो गया. इसका खुलासा खुद फार्म हाउस के गार्ड ने किया.

छापेमारी होते ही नवनीत कालरा ने अपने फोन बंद कर लिए थे और भागने का पूरा प्लान तैयार कर लिया था. रात के अंधेरे में नवनीत कालरा ने अपने पूरे परिवार को अपनी दो लग्जरी गाडियों में सवार किया और पुलिस के फार्म हाउस पहुंचने से पहले नौ दो ग्यारह हो गया.

ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के मास्टरमाइंड के शानदार फार्म हाउस को देखकर उसके रसूख और शानोशौकत का अंदाजा लगाया जा सकता है. लोगों की मानें तो कई एकड़ में फैले कालरा फार्म हाउस में अक्सर पार्टियां हुआ करती थी, जिसमें नामचीन हस्तियां मौजूद रहा करती थीं.

यूं तो नवनीत कालरा खान मार्केट में खान चाचा रेस्टोरेंट का मालिक था, लेकिन पहले वो खान चाचा रेस्टोरेंट का पार्टनर था. बाद में मालिक बना लेकिन रेस्टोरेंट का नाम नहीं बदला. तभी ऑक्सीजन कंसंट्रेटर के गोरखधंधे का भंडाफोड़ होने के बाद शक के घेरे में खान चाचा आए और कालरा को फरार होने का मौका मिल गया.

नवनीत कालरा ने कोरोना जैसी महामारी के वक्त मजबूर लोगों से पैसे ऐंठने का पूरा प्लान तैयार कर रखा था. लंदन में बैठे गगन दुग्गल के साथ मिलकर उसने ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मंगवाए और कोरोना से परेशान लोगों को औने पौने दाम में बेचा. पुलिस को शक है कि कालरा और दुगगल अब तक 40 करोड़ से ज्यादा के ऑक्सीजन कांसंट्रेटर बेच चुका है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button