विशेष विधिक सेवा शिविर से लाभान्वित हुए नागरिक

सारंगढ़ में विशेष विधिक सेवा शिविर का आयोजन

रायगढ़ : छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के न्यायाधिपति गौतम भादुड़ी आज यहां सारंगढ़ के खेलभांठा मैदान में छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रायगढ़ के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित विशेष विधिक सेवा शिविर में शामिल हुए। इस अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश संजय जायसवाल, विशेष न्यायाधीश विजय कुमार होता, पुलिस अधीक्षक दीपक झा, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती चंदन संजय त्रिपाठी उपस्थिति थे।

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के न्यायाधिपति गौतम भादुड़ी ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस शिविर के माध्यम से एक ही जगह पर सभी को शासन की योजनाओं की जानकारी दी जा रही है। जनसामान्य अपने परिचितो को भी शासकीय योजनाओं की जानकारी दे ताकि वे सभी लाभान्वित हो सके और सभी को न्याय मिल सके। इस शिविर में लगभग 10 हजार में से 7 हजार आवेदनों का निराकरण किया गया है और आम नागरिकों को अपना हक मिला है। शासन की जनकल्याणकारी योजना से जनसामान्य अधिक से अधिक लाभान्वित हो। इसके साथ ही विधिक साक्षरता का भी ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं। उन्होंने पैरालीगल वालेन्टियर की भी प्रशंसा की उन्होंने कहा कि वालेंटियर लोगों को शासकीय योजनाओं एवं कानून की जानकारी देकर उन्हें उनका हक दिलाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे है। न्यायाधिपति भादुड़ी ने इस अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालों का अवलोकन भी किया। साथ ही उनके द्वारा नन्हे मुन्ने बच्चों का अन्नप्राशन कराया गया। इस मौके पर छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के न्यायाधिपति गौतम भादुड़ी, जिला एवं सत्र न्यायाधीश संजय जायसवाल, पुलिस अधीक्षक दीपक झा एवं अपर कलेक्टर संजय दीवान ने खेल भांठा मैदान में नीम का पौधा रोपित किया।

छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा के प्राधिकरण के उपसचिव दिग्विजय सिंह ने विशेष विधिक सेवा शिविर के बारे में बताया कि शिविर का प्रचार प्रसार एवं लोगों की समस्याओं का निराकरण करने के लिए 80 पैरालीगल वालेंटियर की टीम गठित की गई है। जिनके माध्यम से गांव-गांव जाकर लोगों को संपर्क करके उनकी समस्याओं के लिये फार्म भराया गया। शिविर में महिला एवं पुरूषों के लिये अलग-अलग पंजीयन काउंटर की व्यवस्था की गयी थी। साथ ही शिविर का लाभ लेने वाले व लोंगो के लिये नि:शुल्क स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया है। शिविर स्थल पर प्राप्त होने वाले प्रकरणों को शिविर के पश्चात विभिन्न विभागों के माध्यम से निराकृत करने की प्रक्रिया की जायेगी।

इस शिविर में कुल 1126 हितग्राही लाभान्वित हुए है जिनमें समाज विभाग कल्याण से निराश्रित पेंशन के 10, राष्ट्रीय परिवार सहायता के 10, 32 दिव्यांगजनों को उपकरण वितरण, 25 दिव्यांगजनों को यूडीआईडी कार्ड एवं दिव्यांग प्रमाण पत्र, महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से 20 बच्चों का अन्न प्राशन एवं 20 गोदभराई, पंचायत एवं ग्रामीण विकास द्वारा 6 महिला स्वसहायता समूह के 60 सदस्यों को बैंक ऋण, प्रधानमंत्री आवास योजना 100 लाभार्थी, रूरल मिशन किट के 10 हितगा्रही, श्रम विभाग की ओर से 50 श्रमिकों को सायकल वितरण एवं 5 को सिलाई मशीन वितरण अन्य योजना के तहत 50 हितग्राही को लाभान्वित किया गया। स्वास्थ्य विभाग में नागरिकों का स्वास्थ्य परीक्षण, राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत 3, मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के 3 तथा अनुसूचित जाति एवं जनजाति की ओर से 4 हितग्राहियों को विवाह प्रोत्साहन की राशि 50 हजार रूपये की राशि प्रदाय की गई। खाद्य विभाग की ओर से 15 हितग्राही लाभान्वित हुए। राजस्व विभाग द्वारा 40 हितग्राहियों के जाति प्रमाण पत्र, 50 हितग्राहियों को निवास प्रमाण पत्र, 55 हितग्राहियों को आय प्रमाण पत्र , 40 हितग्राहियों को नक्शा खसरा एवं अन्य योजना में 3 हितग्राही लाभान्वित हुए। कृषि विभाग की ओर से 22 हितग्राहियों को कृषि उपकरण बीज मीनी कीट का वितरण एवं अन्य योजना, मतस्य विभाग की ओर से 59 हितग्राहियों को नाव, जाल वितरण, तालाब ठेका, उद्यान विभाग की ओर से 100 हितग्राहियों को फलदार पौधों का वितरण, रेशम विभाग की ओर से मोटाराईज्ड स्पिनिंग मशीन का वितरण किया गया। 5 हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी पट्टा वितरण किया गया।

इस अवसर पर अवर सचिव श्वेता श्रीवास्तव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रायगढ़ के शांतनु देशलहरे सहित बड़ी संख्या में अधिकारी, अधिवक्तागण ,कर्मचारी, एवं जनसामान्य उपस्थित थे।

Back to top button