छत्तीसगढ़

नागरिकों के क्षतिपूर्ति प्रकरण समय-सीमा में निराकृत करें-कलेक्टर श्री भीम सिंह

हिमालय मुखर्जी:

रायगढ़: कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज राजस्व, स्वास्थ्य एवं पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक लेकर आम नागरिकों को क्षतिपूर्ति (मुआवजा) प्रदान किये जाने वाले लंबित प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि आकस्मिक दुर्घटनाओं, आग लगने, पानी में डूबने तथा सांप काटने और आकाशीय बिजली की चपेट में आने से होने वाली मृत्यु जैसे गंभीर मामलों में शासन की ओर से आश्रितों को समय-सीमा में क्षतिपूर्ति प्रदाय किये जाने का प्रावधान है इसका लाभ आम नागरिकों को निर्धारित समय में मिले यह सुनिश्चित किया जाना चाहिये।

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने विडियो कान्फ्रेसिंग के द्वारा जिले के सभी एसडीएम से उनके क्षेत्र में लंबित प्रकरणों की जानकारी ली और उन्हें प्राथमिकता से निराकृत करने के निर्देश दिये। लंबित प्रकरणों की समीक्षा के दौरान स्वास्थ्य विभाग और पुलिस विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कुछ प्रकरणों में पोस्टमार्टम के बाद फारेंसिक जांच की आवश्यकता पड़ जाती है यह जांच सुविधा रायपुर के एफएसएल लैब में उपलब्ध है वहां से रिपोर्ट आने में विलंब होता है। इस तकनीकी जांच प्रक्रिया के दौरान कुछ प्रकरणों के निराकरण में विलंब हो जाता है।

कलेक्टर श्री सिंह ने स्वास्थ्य विभाग और पुलिस विभाग के अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर कार्य करते हुये लंबित प्रकरणों के निराकरण करने में गति लाये जाने के निर्देश दिये और रायपुर एफएसएल के फारेसिक लैब से जांच रिपोर्ट शीघ्र प्राप्त कर मृतकों के परिजनों तथा आश्रितों को शीघ्र राहत राशि प्रदाय करने को कहा। बैठक में अपर कलेक्टर श्री कुरूवंशी, एसडीएम सहित राजस्व और संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।  

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button