राज्य

नागरिकता संशोधन कानून: हिंसक प्रदर्शन ने रोडवेज की एक बस को किया आग के हवाले

राज्य में धारा 144 लागू कर दी गई

संभल: नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा में 9 दिसंबर, 2019 को पास होने के बाद 11 दिसंबर, 2019 को राज्यसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने पेश किया जहां एक लंबी बहस के बाद यह बिल पास हो गया.

इस बिल के पास होने के बाद यह नागरिकता संशोधन कानून बन गया. इस कानून के विरोध में असम, बंगाल समेत देश के कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन तेज हो गए. 15 दिसंबर को इस कानून के विरोध में प्रदर्शन के दौरान हिंसा हुई.

इस प्रदर्शन में कई छात्रों समेत पुलिस के कुछ जवान भी घायल हो गए. जामिया की घटना के अगले दिन 16 दिसंबर, 2019 को नागरिकता संशोधन कानून को लेकर सीलमपुर में जमकर प्रदर्शन हुए. इस प्रदर्शन के दौरान पथराव की घटना हुई.

स्‍कूली बस पर भी पत्‍थर फेंके गए. इस प्रदर्शन में कुछ प्रदर्शनकारियों समेत पुलिस वाले भी घायल हुए. एक पुलिस चौकी को प्रदर्शनकारियों ने जला दिया. पुलिस ने हालात को काबू में किया और वहां चौकसी बढ़ा दी गई.

वहीं अब उत्तर प्रदेश के संभल में हिंसक प्रदर्शन में प्रदर्शनकारियों ने रोडवेज की एक रोडवेज की एक बस को आग के हवाले कर दिया है. फायर ब्रिगेड की टीम ने मौके पर पहुंचकर आग बुझाई. कानून के विरोध में सूबे की राजधानी लखनऊ में भी प्रदर्शन हो रहे हैं. राज्य में धारा 144 लागू कर दी गई है.

Tags
Back to top button