राज्य

नागरिकता (संशोधन) कानून: उत्तर प्रदेश में हिंसक प्रदर्शन, स्कूल, कालेज बंद

नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे हिंसक प्रदर्शनों में अब तक 9 लोगों की मौत

लखनऊ:नागरिकता (संशोधन) कानून को लेकर जुमे की नमाज के बाद कई जिलों में जमकर बवाल हुआ. गोरखपुर, बिजनौर, फिरोजाबाद, संभल, कानपुर समेत कई जिलों में पुलिस पर पथराव और जगह जगह आगजनी की गई.

वहीं उत्तर प्रदेश में हिंसक प्रदर्शन के कारण एक व्यक्ति की मौत की खबर है. ऐसा बताया जा रहा है कि संभल में एक व्यक्ति के मारे जाने की खबर है. बता दें कि नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे हिंसक प्रदर्शनों में अब तक 9 लोगों की मौत हो चुकी है.

प्रदेश में हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन में शुक्रवार तक 7 लोगों के मारे जाने की खबर थी. जानकारी के मुताबिक बिजनौर में 2 लोग मारे गए जबकि कानपुर, आगरा और मेरठ में 1-1 की मौत हो गई.

वहीं, गुरुवार (19 दिंसबर) को विरोध प्रदर्शन के दौरान गोली लगने से एक व्यक्ति की लखनऊ में मौत हो गई थी. अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि अब तक हिंसा में कुल 15 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं.

हिंसा के बाद योगी सरकार का बड़ा फैसला

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में नागरिकता (संशोधन) कानून (CAA) के विरोध में हिंसक विरोध-प्रदर्शन के बाद सरकार ने आज (शनिवार) राज्य के सभी स्कूल-कॉलेजों बंद रखने का फैसला लिया है.

साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने लोगों से शांति बनाए रखने और किसी भी अफवाहों पर विश्वास न करने की अपील की है. उन्होंने कहा है कि किसी को भी कानून हाथ में नहीं लेना चाहिए.

उधर, प्रदेश में CAA के विरोध के बीच एहतियात के तौर पर यूपी में होने वाली TET परीक्षा को स्थगित कर दिया गया है. 22 दिसंबर को होनी वाली परीक्षा में 75 जिलों के करीब 16 लाख छात्रों को शामिल होना था.

Tags
Back to top button