खुदरा क्षेत्र में एफडीआई के खिलाफ व्यापारियों के आन्दोलन का सीटू ने किया समर्थन

रायपुर.

सीटू ने खुदरा क्षेत्र में ऍफ़डीआई के खिलाफ व्यापारियों के संगठन कैट के आव्हान पर 28 सितम्बर के देशव्यापी आन्दोलन का समर्थन किया है .

सीटू ने कहा की यह हमारे देश के खुदरा बाजार का विनाश और बड़े पैमाने पर घरेलु अर्थव्यवस्था और रोजगार का खात्मा करेगा. इससे लगभग 20 करोड़ आबादी का हिस्सा प्रभावित होगा.

सीटू ने कहा कि जो भाजपा एकल व् मुलती ब्रांड में ऍफ़ डी आई का विरोध करती थी और जो मोदी इसके खिलाफ जहर उगलते थे आज वही विदेशी पूंजी और बहुरास्ट्रीय कंपनियों के हाथो बेचने पर आमादाहै. वालमार्ट द्वारा फ्लिप्कार्ट को ख़रीदा जाना इसका शर्मनाक उदाहरण है अर्थात मोदी सरकार के राज में बहुरास्ट्रीय कंपनिया देशी कम्पनियों का गला घोंट रही है और स्वदेशी का राग अलापने वाली ताकते ही उन्हें यह अवसर दे रही है.

सीटू ने कहा कि इससे भाजपा का दोगला चरित्र पूरी तरह बेनकाब हो गया है और आशा है कि देश के व्यापारी भी भाजपा के इस चरित्र को समझेंगे. सीटू ने देश की जनता के व्यापक तबके के साथ एकजुट होकर व्यापारियों से इस संघर्ष में भागीदारी की अपील की है ताकि सरकार को इस देशविरोधी कदमो के अमल से रोका जा सके.

Back to top button