छत्तीसगढ़

नगर कोतवाल का दिखा कोमल-हृदय, 03 साल से वृद्धाश्रम में रह रहे बुर्जुग दम्पति को पहुंचाये उनके घर

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

रायगढ़- थाना कोतवाली अन्तर्गत बड़े रामपुर में संचालित वृद्धाश्रम (बापू की कुटिया) में ईशानगर में रहने वाले बिलोकन बेग (70 साल) और उसकी पत्नी चोनाहति बेग (65 साल) करीब 03 साल से बहू-बेटे से विवाद होने पर रह रहे थे,वृद्धाश्रम की संचालिका द्वारा गत दिनों एसपी संतोष सिंह को दम्पति के बारे में जानकारी दिया गया कि दम्पति ईशानगर रायगढ़ के रहने वाले हैं, बहू-बेटे से मामूली झगड़ा विवाद कर आश्रम में रहते हैं, कभी-कभी घर चले जाते हैं, फिर वापस आ जाते हैं,इनके बेटे को भी समझाया गया कि माता-पिता को लेकर जावे पर दोनों तरफ मनमुटाव है

पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह द्वारा नव पदस्थ थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक कृष्णकांत सिंह को बुजुर्ग दम्पति के बेटे को समझाइश देकर मामला सुलझाने का निर्देश दिये,जिस पर थाना प्रभारी द्वारा बुर्जुग दम्पति की जानकारी लिये,उन्हें आभास हुआ कि वृद्ध महिला परिवार से अलग होकर चिड़चिड़ी हो गई है उसे परिवार की नितांत आवश्यकता है,तत्काल पेट्रालिंग के ए.एस.आई. राजेन्द्र पटेल एवं आरक्षक हरीश पटेल को आश्रम भेजकर दम्पति को उनके घर पहुंचाने एवं उसके बेटे को हिदायत देने कहा गया,

एएसआई राजेन्द्र पटेल द्वारा दम्पति को आश्रम से घर ले जाकर छोड़े और उसके बेटे गुलशन बेग को वृद्ध माता-पिता को साथ रखने की हिदायत दिये,गुलशन बेग बताया कि माता-पिता के साथ कोई विवाद नहीं है, माता-पिता अपनी मर्जी से आश्रम जाकर रहने लगे थे, आगे से घर में रहेंगे…

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button