क्लब विश्व कप : यूरोपीय चैंपियन मैड्रिड ने जीता सातवीं बार वर्ल्ड टाइटल

मोड्रिक ने 79वें मिनट में शानदार कॉर्नर किक पर सर्जियो रामोस के गोल में मदद की, जिससे रियल मैड्रिड ने 3-0 की बढ़त बनाई.

लुका मोड्रिक के शानदार प्रदर्शन की बदौलत रियल मैड्रिड ने मेजबान अल ऐन को 4-1 से हराकर एक बार फिर क्लब विश्व कप का खिताब जीत लिया.

यूरोपीय चैंपियन मैड्रिड ने रिकॉर्ड सातवीं बार वर्ल्ड वर्ल्ड टाइटल जीता है. ‘बालोन डी ओर’ पुरस्कार विजेता मोड्रिक ने 14वें मिनट में गोल दागकर रियल मैड्रिड को 1-0 से आगे किया, जिसके बाद मार्कोस लारेंटे ने टीम की बढ़त को दोगुना कर दिया.

मोड्रिक ने 79वें मिनट में शानदार कॉर्नर किक पर सर्जियो रामोस के गोल में मदद की, जिससे रियल मैड्रिड ने 3-0 की बढ़त बनाई.

सुकासा शियोतानी ने अल ऐन की ओर से गोल दागा, लेकिन उनके साथी याहिया नादेर ने इंजरी टाइम में आत्मघाती गोल दागकर रियल मैड्रिड की 4-1 से जीत सुनिश्चित की.

रियल ने चौथी बार (2014, 2016, 2017, 2018) क्लब विश्व कप पर कब्जा जमाया. इसके अलावा रियल तीन बार (1960, 1998, 2002) इंटर कॉन्टिनेंटल कप चैंपियन भी रह चुका है.

रियल मैड्रिड ने लगातार तीसरी बार क्लब फुटबॉल में खिताबी जीत हासिल कर अपनी हैट्रिक भी पूरी की. रियल ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी बार्सिलोना को पीछे छोड़ा.

जो तीन बार (2009, 2011, 2015) विजेता रहा है. गौरतलब है कि फीफा क्लब वर्ल्ड कप की शुरुआत 2000 में हुई थी.

उधर, बार्सीलोना ने एस्पान्योल को शनिवार को कैंप नाउ में 2-0 से हराकर ला लीगा के शीर्ष पर अपनी तीन अंक की बढ़त बरकरार रखी.

ओस्माने डेम्बेले और लियोनेल मेसी ने पहले हाफ में गोल दागकर बार्सीलोना की जीत सुनिश्चित की. इस जीत से बार्सीलोना के 37 अंक हो गए हैं. एटलेटिको ने इससे पहले एस्पान्योल को ही 1-0 से हराकर बार्सिलोना की बराबरी कर ली थी.

advt
Back to top button